Zip code meaning in hindi – ज़िप कोड क्या है?

क्या आप ऑनलाइन शॉपिंग करते है या ऑनलाइन किसी प्रकार का फ्रॉम डालते है तो अपने ज़िप कोड के बारे में ज़रूर सुना होगा अक्सर लोगो को ज़िप कोड के बारे पूर्ण जानकारी नहीं होती है और ज़िप कोड पिन कोड और पोस्टल में भटक जाते है और समझ नहीं पाते. तो इस आर्टिकल के जरिये हम आपको Zip code meaning in hindi तथा ज़िप कोड क्या है इसके बारे में पूर्ण जानकारी देंगे।

ज़िप कोड खास करके ऑनलाइन प्लेटफॉर्मो जैसे कि किसी सामान को ऑनलाइन आर्डर करना और अपने घर के पते पर मगवाना या किसी प्रकार का डाक द्वारा लेटर मगवाने में आपके पते को पूरी तरह से वेरीफाई करने में ज़िप कोड काम आता है कई बार आपके घर का पता मिस मैच हो जाता है उस वक़्त आपके ज़िप कोड या पोस्टल कोड के जरिये आपके पते को खोजने में आसानी होती है ज़िप कोड हर एरिया का अलग अलग होता है तथा इससे कभी बदला नहीं जाता है।

Zip code meaning in hindi

zip-code-meaning-in-hindi
zip-code-meaning-in-hindi

ज़िप का पूरा नाम zonal improvement plan होता है तथा ज़िप कोड का हिंदी मतलब आंचलिक सुधार योजना होता है लेकिन आप आसान भाषा में ज़िप कोड का मतलब पिन कोड होता है आप से कही भी ज़िप कोड मांगा जाये तो आप अपने एरिया का पिन कोड डाल दीजिये वही आपका ज़िप कोड होता है।

जो अगर बात करे कि ज़िप कोड यूज़ कहा किया जाता है तो मै आपको बता दू ज़िप कोड का इस्तेमाल अमेरिका में किया जाता है जो कि इंडिया में पिन कोड के नाम से जाना जाता है तथा वही अमेरिका में ज़िप कोड के नाम से जाना जाता है अन्यथा इसमें कोई अंतर नहीं है।

ज़िप कोड क्या है?

ज़िप कोड क्या है (What is zip code in hindi) Zip का फुल फॉर्म जोनल इम्प्रूवमेंट प्लान होता है बेसिकली ज़िप कोड किसी एरिया या किसी पोस्ट ऑफिस को खोजने में मदद करता है ज़िप कोड के माध्यम से सरकार द्वारा गांव कस्बो तथा पिछड़े इलाको को खोज कर सुधार (improvement) करने में भी आसानी होती है तथा ज़िप कोड के जरिये कोई भी एरिया को आसानी से किसी पता किया जा सकता है।

ज़िप कोड पांच अंक का होता है जिसमे क्षेत्र पोस्ट ऑफिस गांव और कस्बे की जानकारी छुपी होती है और आप ये भी समझ लीजिये कि पिन कोड, ज़िप कोड, पोस्टल कोड, ये सब एक ही होता है जो अगर आपके पास पोस्टल कोड है तो उसी को आप पिन कोड की जगह पर यूज़ कर सकते है और ज़िप कोड की जगह पर भी यूज़ सकते है।

ज़िप कोड का खोज कब हुआ था?

ज़िप कोड मीनिंग इन हिंदी ये तो समझ आ गया होगा अब जानते है कि ज़िप कोड की शुरुआत कब और कहा से हुआ zip code की शुरुआत 1 जुलाई 1963 को अमेरिका में पहली बार यूज़ किया गया था जब ज़िप कोड शुरू किया गया था तब ये 5 अंक हुआ करता था लेकिन जैसे जैसे बदलाव होता गया और चीजे बदलती गयी।

तथा 5 अंक के ज़िप कोड में कुछ कमिया पायी गयी उसको पूरा करने के लिए 1983 में 4 अंक और जोड़ दिया गया तथा ज़िप कोड 9 अंक (9 Digit) का कर दिया तब पूरी तरह से ज़िप कोड में सुधार हुआ और इस्तेमाल भी बढ़ गया।

अपने एरिया का ज़िप कोड कैसे पता करे?

अब आइये जानते है कि किसी भी एरिया का ज़िप कोड कैसे पता करे तो सबसे पहले आप इस वेबसाइट worldpostalcode पर जाये और जिस एरिया का ज़िप कोड पता करना चाहते है उस एरिया या जिला का नाम डाले और आसानी से ज़िप कोड निकाल ले।

ज़िप कोड से कैसे पता निकलता है?

ज़िप कोड 9 अंक का होता है और उसमे हर अंक में कुछ जानकारी होती है इस 9 Digit ज़िप कोड के अंदर स्टेट से लेकर उसके ऑफिस अपार्टमेंट और बिल्डिंग तक की जानकारी होती है इसीलिए एक ज़िप कोड के माध्यम से आसानी से किसी का पता निकाला जा सकता है।

निष्कर्ष Conclusion

मै उम्मीद करता हूँ कि Zip code meaning in hindi आपको इस पोस्ट से काफी हेल्प मिला होगा और आपको ज़िप कोड क्या है? इससे सम्बंधित सारे प्रॉब्लम दूर हो गये होंगे जो अगर आपको इससे सम्बंधित कोई सवाल है तो आप कमेंट करके पूछ सकते है मै उसका जवाब आपको ज़रूर दूंगा तथा आप ऐसे पोस्ट पढ़ेंने में इंटरेस्ट रखते है तो आप हमारे फेसबुक और इंटस्टाग्राम के पेज को फॉलो करे और हर रोज नई नई जानकारी पाये हिंदी में. (धन्यवाद्)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!