साइबर सिक्योरिटी कोर्स इन हिंदी।

Cyber Security का नाम आपने तो सुना ही होगा लेकिन बहुत सारे विद्यार्थी साइबर सिक्योरिटी कोर्स करके अपना करियर इसी क्षेत्र में सेट करना चाहते है लेकिन अधिकतर विद्यार्थी को साइबर सिक्योरिटी कोर्स क्या है. साइबर सिक्योरिटी कोर्स इन हिंदी। साइबर सिक्योरिटी कोर्स कैसे करे और साइबर सिक्योरिटी कोर्स फीस के बारे में जानकारी नहीं होती है तो हम लोग इस लेख में इसी विशेष पर जानकारी प्राप्त करने वाले है।

साइबर फ्रॉड साइबर अटैक या ऑनलाइन फ्रॉड शब्द से आप रूबरू होंगे क्योकि आज के इस आधुनिक युग में यह काफी तेजी बढ़ रहा है क्योकि अधिकतर प्लेटफार्म को ऑनलाइन सेटअप किया जा रहा है हम लोग डिजिटलीकरण की ओर काफी तेजी बढ़ रहे है लेकिन ऐसे में बहुत सारे ऑनलाइन मार्किट में हैकर बैठे है जो साइबर अटैक करके तहेसनहेस और ठगी करते है।

जिस तरह से सभी चीजों को डिजिटल किया जा रहा है उसी तरह से उसे सुरक्षित रखने के लिए साइबर सिक्योरिटी की टीम तैयार की जा रही है क्योकि ऑनलाइन मार्किट बहुत बड़ा हो गया है और धीरे धीरे उसका विकास होता जा रहा है और उससे जुड़े अपराध भी बढ़ रहे है इसीको कम करने या रोकने के लिए हमारी साइबर सिक्योरिटी टीम कार्य करती है।

कई विद्यार्थी साइबर सिक्योरिटी कोर्स करके अपना करियर बनाना चाहते है क्योकि इस क्षेत्र में काफी स्कोप है और आने वाले समय में इसमें अधिक जॉब अवसर भी होने वाला है इसीलिए कई स्टूडेंट साइबर सिक्योरिटी कोर्स करके इस क्षेत्र में करियर सेट करना चाहते है आइये इसके बारे में विशेष जानकारी प्राप्त करते है।

साइबर सिक्योरिटी कोर्स इन हिंदी।

syber-security-course-in-hindi

साइबर सिक्योरिटी एक्सपर्ट बनने के लिए कई अलग अलग कोर्स बनाये गए है ये इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी से जुड़ा कोर्स है इन कोर्सो को पुरा करके विद्यार्थी साइबर क्राइम रोक सकते है जिस तरह से हम लोग हर एक काम को इंटरनेट की मदद से बड़ी आसानी से कही भी बैठकर कर लेते है लेकिन कई कामो करने के लिए हमें निजी दस्तावेज इंटरनेट पर अपलोड करना पड़ता है या शेयर करना पड़ता है ऐसी बहुत सारी निजी जानकारिया हम लोगो की इंटरनेट पर मौजूद होती है।

दिक्कत तब आती है जब उसमे से हमारी कोई निजी जानकारी किसी दूसरे व्यक्ति के पास चली जाती है फिर वह व्यक्ति पर्सनल इनफार्मेशन लेकर कई तरह का नुकसान पहुंचाता है इसे रोकने के लिए या पर्सनल डेटा की सुरक्षा करने के लिए विद्यार्थी साइबर सिक्योरिटी का कोर्स करते है इस कोर्स को पूरा करके विद्यार्थी लोगो की निजी जानकारियों की सुरक्षा करते है।

जिस तरह तेजी से इंटरनेट हमारे जीवन में प्रवेश कर चूका है उसी हिसाब से बहुत सारे ऑनलाइन फ्रॉड और अपराध सामने आते है जैसे क्रेडिट कार्ड चोरी, ब्लैक मेल करना, ऑनलाइन पैसे की चोरी करना, स्टॉकिंग, ऐसे कई मामले सामने आते है इन्हे रोकने के लिए साइबर एक्सपर्ट की आवश्यकता होती है।

साइबर सिक्योरिटी कोर्स के लिए विद्यार्थी कंप्यूटर साइंस से बीटेक कोर्स और एमटेक कोर्स कर सकता है उसके साथ कई डिप्लोमा कोर्स है जिसे पूरा करके विद्यार्थी साइबर सिक्योरिटी के क्षेत्र में एक्सपर्ट बन सकता है साइबर सिक्योरिटी डिप्लोमा कोर्स 10 महीने से 12 महीने के भी होते है इससे कम समय के कोर्स भी होते है यदि इस क्षेत्र में करियर बनाने के बारे में सोच रहे है तो कई यूजी और पीजी कोर्स है उसे पूरा सकते है।

Syber security कोर्स।

इस क्षेत्र में कई कोर्स कराये जाते है विद्यार्थी बैचलर यानि ग्रेजुएशन कोर्स कर सकता है नहीं तो डिप्लोमा या सर्टिफिकेट कोर्स पूरा करके साइबर सुरक्षा क्षेत्र में करियर बना सकता है।

  • B.Tech साइबर सिक्योरिटी कोर्स के लिए विद्यार्थी कंप्यूटर साइंस से बीटेक कोर्स कर सकता है विथ साइबर सिक्योरिटी एंड क्विक हिल से कोर्स करके साइबर सिक्योरिटी एक्सपर्ट बन सकता है।
  • M.Tech इसी क्षेत्र में करियर सेट करने के लिए विद्यार्थी को कंप्यूटर साइंस से एमटेक कोर्स कर लेना चाहिए जिसके लिए विद्यार्थी को पहले बीटेक कोर्स करना होगा।
  • B.sc साइबर सिक्योरिटी में आप बीएससी कोर्स भी कर सकते है ये कोर्स तीन वर्ष का होंगा।
  • B.ca साइबर सिक्योरिटी से विद्यार्थी बीसीए कोर्स भी कर सकता है और साइबर सुरक्षा एक्सपर्ट बन सकता है।
  • B.ca Hon विद्यार्थी साइबर सिक्योरिटी एक्सपर्ट बीसीए होनर कोर्स पूरा करके भी बन सकता है।
  • BE बैचलर ऑफ़ एजुकेशन में इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी विथ आईबीएम कोर्स करके भी साइबर सुरक्षा एक्सपर्ट बन सकते है।
  • आईटी मैनेजमेंट एंड साइबर सिक्योरिटी कोर्स कर सकते है।

साइबर सिक्योरिटी कोर्स के लिए योग्यता।

किसी भी कोर्स में प्रवेश लेने के लिए विद्यार्थी की शैक्षणिक योग्यता देखि जाती है अगर साइबर सिक्योरिटी कोर्स के लिए विद्यार्थी की एजुकेशनल क्वालिफिकेशन की बात करे तो 12वी साइंस साइट से उत्तीर्ण होना चाहिए उसके साथ कंप्यूटर का ज्ञान होना भी ज़रूरी है।

साइबर सिक्योरिटी कोर्स कितने साल का होता है?

बहुत सारे विद्यार्थी के मन में यह प्रश्न होगा की साइबर सिक्योरिटी कोर्स को कितने वर्ष में पूरा कर सकते है Course का Time Duration क्या होता है तो मैं बता दू की साइबर सिक्योरिटी में ग्रेजुएशन करने करने के लिए 3 से 4 वर्ष लग जाते है वही डिप्लोमा कोर्स को 1 से 2 वर्ष में कम्पलीट कर सकते है उसके बाद साइबर सिक्योरिटी सर्टिफिकेट कोर्स से पुरा कर सकते है इस कोर्स को आप 12 महीने या इससे कम में पूरा कर सकते है।

कोर्स कितने साल का होता है ये कोर्स पर निर्भर करता है की आप कौन सा कोर्स करते है अगर ग्रेजुएशन करते है तो 3 से 4 वर्ष का होगा वही डिप्लोमा कोर्स 1 से 2 वर्ष या इससे भी कम और सर्टिफिकेट कोर्स 1 वर्ष या इससे कम में इन कोर्सो को पूरा करके आप साइबर सिक्योरिटी एक्सपर्ट बन सकते है।

साइबर सिक्योरिटी कोर्स फीस।

अब प्रश्न आता है की साइबर सिक्योरिटी कोर्स करने के लिए कितना फीस लगता है तो बताते चले की ये कोर्स के ऊपर निर्भर करता है की आप ग्रेजुएशन डिप्लोमा या सर्टिफिकेट कोर्स चुनते है सभी कोर्स और कॉलेज संस्थान की फीस अलग अलग होती है इसलिए मैं आपको निश्चित फीस नहीं बता सकता हूँ लेकिन मैं आपको ग्रेजुएशन डिप्लोमा और सर्टिफिकेट कोर्स का एवरेज फीस बता देता हूँ।

अगर आप साइबर सिक्योरिटी में बीटेक कोर्स करते है तो इस कोर्स की फीस 1 लाख से 2 लाख के बीच होती है इतने फीस में विद्यार्थी साइबर सिक्योरिटी में ग्रेजुएशन पूरा कर सकता है इस कोर्स को विद्यार्थी 12वी पास करने के बाद कर सकता है।

साइबर सिक्योरिटी में डिप्लोमा और सर्टिफिकेट कोर्स की फीस ग्रेजुएशन कोर्स की फीस से काफी कम होती है इन कोर्सो को विद्यार्थी 50 हजार से या इससे कम में पूरा कर सकता है फीस स्ट्रक्चर कॉलेज और यूनिवर्सिटी पर निर्भर करता है साथ ही आप कौन का कोर्स चुन रहे है उस पर निर्भर करता है।

किसी भी कोर्स में प्रवेश लेने से पहले विद्यार्थी को फीस स्ट्रक्चर से को कॉलेज संस्थान से कन्फर्म कर लेना चाहिए बेहतर होगा इससे आपको कॉलेज की निश्चित फीस की जानकारी हो जाएगी।

साइबर सिक्योरिटी कोर्स कॉलेज इन इंडिया।

  1. इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी : इलाहाबाद
  2. एमिटी यूनिवर्सिटी : मुंबई, गुणगाव
  3. इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी : कानपूर
  4. जयपुर नेशनल यूनिवर्सिटी : राजिस्थान
  5. यूनिवर्सिटी ऑफ़ मद्रास : चेन्नई
  6. यूनिवर्सिटी ऑफ़ कैलकट : केरल
  7. गुजरात यूनिवर्सिटी : अहमदाबाद
  8. जैन यूनिवर्सिटी : बंगलुरु
  9. यूनिवर्सिटी ऑफ़ लखनऊ : लखनऊ
  10. एसजीटी यूनिवर्सिटी : हरयाणा

साइबर सिक्योरिटी कोर्स क्या है?

ऑनलाइन अपराध को रोकने के लिए साइबर सिक्योरिटी एक्सपर्ट की आवश्यकता होती है लेकिन साइबर सिक्योरिटी एक्सपर्ट इसका कोर्स करके बनते है यानि साइबर सिक्योरिटी एक्सपर्ट बनने के लिए विद्यार्थी को साइबर सिक्योरिटी का कोर्स करना होगा तभी वह साइबर सुरक्षा की छोटी बड़ी चीजों को आसानी से समझ सकता है।

आशा है की इस लेख में साइबर सिक्योरिटी कोर्स इन हिंदी। की पूरी जानकारी समझ आयी होगी इसी तरह से इस ब्लॉग पर डेली बेसेस पर कई तरह से की जानकारी शेयर की जाती है अधिक जानकारी के लिए हमारे ब्लॉग पर पहले से पब्लिश लेख पढ़ सकते है।

इस लेख से सम्बंधित कोई प्रश्न हो डाउट हो तो कमेंट बॉक्स के मदद से उसका उत्तर जान सकते है इस लेख से आपको सहायता मिला हो तो इसे सोशल मीडिया का मध्यम चुनकर शेयर करे ताकि और नए विद्यार्थी तक या लेख पहुंच सके जिससे उन विद्यार्थियों को आसानी इस कोर्स से सम्बंधित जानकारी प्राप्त करने में आसानी हो।

Leave a Comment

error: Content is protected !!