स्टेनोग्राफर क्या है – स्टेनोग्राफर की तैयारी कैसे करें?

क्या आप एक स्टेनोग्राफर बनना चाहते है या शार्ट हैंड बनना चाहते है तो यह जानकारी आपके लिए महत्वपूर्ण हो सकता है आज के इस लेख में हम लोग जानेगे की स्टेनोग्राफर क्या है. स्टेनो कोर्स क्या है, स्टेनो कोर्स फीस स्टेनोग्राफर सिलेबस हिंदी पर विस्तृत जानकारी प्राप्त करेंगे।

आज के इस आधुनिक युग में हर छात्र अनेक अनेक क्षेत्र में अपना करियर बनाने के लिए उत्सुक्त रहता है लेकिन कई छात्रों को डिफरेंट कोर्स की जानकारी न होने के कारण वो वही करियर विकल्प चुनते है जो सभी कर रहे है स्टेनोग्राफर युवाओ के लिए काफी बेहतर करियर ऑप्शन है और तो और इस कोर्स को 10th पास करने के बाद किया जा सकता है।

स्टेनोग्राफर बनने के लिए एसएससी स्टेनो की तैयारी कर सकते है और आसानी से आप स्टेनोग्राफर बनकर अपना करियर बना सकते है अगर आप स्टेनोग्राफर बनने के बारे सोच रहे है तो आप सही इनफार्मेशन लेने के लिए सही ब्लॉग पर आ गए यह जानकारी ध्यानपूर्वक पढ़े सारे सवाल हल हो जायेगे स्टेनो कोर्स फीस, स्टेनोग्राफर की तैयारी कैसे करे, स्टेनो कोर्स क्या है, की पूर्ण विस्तृत मिलेगा।

स्टेनोग्राफर क्या है?

stenographer-kya-hai

Stenographer का हिंदी अर्थ आशुलिपिक लेखक होता है और इन्हे दूसरे शब्दों में Shorthand भी कहा जाता है इनका काम किसी व्यक्ति के द्वारा दिए Speech भाषण को कैप्चर करना और कम से कम शब्दों में लिखना किसी स्पीच को शार्ट में लिखने का कार्य आशुलिपिक लेखक का होता है इनको स्टेनोग्राफर कहा जाता है।

स्टेनोग्राफर का अधिकांश प्रयोग सरकारी विभागो में पूर्णत्या किया जाता है अगर इनकी नियुक्ति की बात करे तो कर्मचारी चयन आयोग (Staff Selection Commission) के माध्यम से भर्ती की जाती है।

स्टेनोग्राफर की टाइपिंग स्पीड अन्य लेखक के मुकाबले काफी तेज और कैप्चर करने की काफी क्षमता होती है और काफी गति के साथ किसी स्पीच को राइटिंग में कन्वर्ट करना एक स्टेनोग्राफर का कार्य होता है तथा लिखते समय सिंबल आदि का प्रयोग करके स्पीच को लिखना।

इसे भी पढ़े,

स्टेनोग्राफर की तैयारी कैसे करें?

अगर आपको ये नहीं पता है की स्टेनोग्राफर कैसे बने. तो मैं आपको स्टेप वाई स्टेप जानकारी देने वाला हूँ इसे आप फॉलो कर सकते है आइये जानते है।

  1. सबसे आपको 12th पास करना है उसके बाद आपको किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यायल से graduation स्नातक की डिग्री लेनी होगी इसके लिए आप कोई भी कोर्स कर सकते है और स्नातक पूरा कर सकते है।
  2. ग्रेजुएशन करते करते आपको SSC Steno की तैयारी करनी है और टाइपिंग पर खास ध्यान देना है और स्पीड बढ़ाना है।
  3. फिर किसी एसएससी कोचिंग सेंटर को ज्वाइन करे ताकि आपको स्टेनो की परीक्षा पास करने से सम्बंधित जानकारी प्राप्त हो जाये इस लिए आपको कोचिंग ज़रूर ज्वाइन करना चाहिए।
  4. कोचिंग में पढ़ाये गए विषय का एक नोट्स बनाये जो आपको एग्जाम के समय काफी हेल्प कर सकता है और हर रोज क्लास अटेंड करे जिससे कोई टॉपिक छूटे न अच्छे से तैयारी करे।
  5. फिर एसएससी स्टेनो के लिए आवेदन करे स्टेनोग्राफर के लिए हर साल वैकेंसी निकाली जाती है इससे सम्बंधित इनफार्मेशन sarkariresult.com पर मुहैया कराई जाती है।
  6. आवेदन करने के बाद आपको दो एग्जाम देने होंगे दोनों एग्जाम पास करने के बाद आपकी नियुक्ति स्टेनोग्राफर के पद पर हो जाएगी।

स्टेनो के लिए योग्यता।

किसी कोर्स को करने के लिए जो संबसे महत्वपूर्ण होता है वो शैक्षणिक योग्यता होता है अगर स्टेनो के लिए योग्यता की बात की जाये तो न्यूनतम योग्यता 12th उत्तीर्ण होना अनिवार्य है अगर स्नातक उत्तीर्ण है तो उसका लाभ छात्र को मिलता है कई बार कुछ पदों के लिए स्नातक अनिवार्य होता है।

स्टेनो कोर्स फीस।

अगर आप स्टेनोग्राफर के लिए कोई कोचिंग सेण्टर ज्वाइन करते है तो 5 हजार से 15 हजार रूपये के बीच फीस हो सकती है यह हर जगह शेम नहीं हो सकता है कम ज्यादा हो सकता है इसके आप जिस भी कोचिंग को ज्वाइन कर रहे है वहा पता करले तो बेहतर होगा।

आवेदन Application की फीस की बात करे तो 100 रूपये होती है ये फीस आपको आवेदन करते समय देना होगा इसके अलावा और कोई फीस देने की आवश्यकता नहीं है।

स्टेनो के लिए आयु सीमा।

हर पोस्ट पर भर्ती करने की आयु सिमा तय की जाती तो स्टेनो के लिए आयु सिमा तय की गयी है वो है न्यूनतम 18 वर्ष और अधिकतम 25 वर्ष होना अनिवार्य है।

स्टेनो कितने प्रकार के होते है?

कई छात्र के सवाल होते है की स्टेनोग्राफर कितने प्रकार के होते है, तो मैं आपको बता दू स्टेनोग्राफर एक ही तरह के होते है लेकिन स्टेनोग्राफर के भाषा अलग अलग हो सकते है अधिकांश स्टेनोग्राफर शॉर्टहैंड हिंदी के होते है लेकिन कही कही अंग्रेजी भाषा के शॉर्टहैंड स्टेनोग्राफर की आवश्यकता होती है दोनों भाषा के लिए शॉर्टहैंड नियुक्त किये जाते है तो आप दो प्रकार के स्टेनोग्राफर समझ सकते है।

स्टेनो के लिए टाइपिंग स्पीड।

एक शॉर्टहैंड या स्टेनोग्राफर के टाइपिंग स्पीड की बात करे तो काफी ज्यादा से ज्यादा होना चाहिए क्योकि इन कर्मचारियों को इन्ही कामो के लिए नियुक्त किया जाता है इसलिए कम से कम प्रति मिनट 80 word शब्द से ज्यादा होना चाहिए यानि एक मिनट में 80 शब्द टाइप करने की कैपासिटी होना ज़रूरी है।

आज आपने क्या सीखा?

मुझे आशा है की यह लेख आपको यह सिखाया होगा की स्टेनोग्राफर क्या है. और स्टेनोग्राफर की तैयारी कैसे करें. इसके अलावा भी कई सवालो को इस आर्टिकल में कवर किया गया है जो आपको पसंद आया होगा अब आपको स्टेनोग्राफर बनने से सम्बंधित जानकारी मिल गया होगा अगर इस लेख से सम्बंधित कोई सवाल या डाउट है तो उसे आप पूछ सकते है उसका जवाब आपको अवश्य मिलेगा।

यह आर्टिकल आपको पसंद आया हो इससे आपको सहायता मिला हो तो इसे अपने मित्रो तक पहुंचना न भूले अगर आप हमसे किसी प्रकार सुझाव हो या अन्य जानकारी के सम्बन्ध में सम्पर्क करने के लिए हमारे कांटेक्ट पेज पर जाये अपना नाम ईमेल आईडी और अपना मैसेज लिखे और सेंड करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!