साइंस में कौन कौन से सब्जेक्ट होते हैं – साइंस सब्जेक्ट की लिस्ट।

अधिकतर स्टूडेंट Science Site से पढाई करते है फिर आगे जाकर अलग अलग क्षेत्र में अपना करियर सेट करते है। जिसकी बात हम आगे के लेख में करेंगे। इस लेख में हम लोग चर्चा करेंगे कि साइंस में कौन कौन से सब्जेक्ट होते हैं और साइंस में कौन कौन सी जॉब होती है. इसकी विस्तृत जानकारी प्राप्त करेंगे।

साइंस स्टीम के अलावा भी आर्ट्स, और कॉमर्स स्टीम भी होती है। जिसमे कई अलग अलग विषय पढ़ाये जाते है लेकिन मेडिकल क्षेत्र और इंजीनियरिंग क्षेत्र में स्टूडेंट को करियर बनाने के लिए साइंस बैकग्राउंड से ही पढाई करना होता है। साइंस स्टीम में भी विद्यार्थी अपने इंटरेस्ट के हिसाब विषय चुनकर पढाई कर सकता है। साथ इस क्षेत्र में स्टूडेंट को नौकरी के अवसर भी अधिक मिल जाते है।

10वी पास करने के बाद विद्यार्थी को यह तय करना होता है। कि वह किस क्षेत्र में पढाई करना चाहता है आगे किस क्षेत्र में वह अपना करियर सेट करना चाहता है। 11वी और 12वी की पढाई करीयर की एक हिसाब से नीव होती है। यहा से स्टूडेंट तय करता है। वह किस क्षेत्र में करियर बनाना चाहता है। भविष्य में पढाई करके क्या बनना चाहता है।

साइंस स्टीम में पढाई करने के लिए 10 वी के बाद ही उसे साइंस विषय चुनना होगा। बहुत सारे विद्यार्थी अपने दिलचस्पी के अनुसार विषय चुनकर पढाई करते है। जिसमे विद्यार्थी का मन लगता है। उसी क्षेत्र में वह पढाई करता है। पसंद के सब्जेक्ट चुनकर अड्मिशन के लिए काफी संघर्ष भी करना पड़ता है जिसके पीछे स्टूडेंट काफी मेहनत भी करता है।

साइंस में कौन कौन से सब्जेक्ट होते हैं?

science-me-koun-koun-sesubject-hote-hai

Science Stream में भी और स्टीम की तरह सब्जेक्ट चुनने का ऑप्शन होता है। कुछ सब्जेक्ट ऑप्शनल होते है। वही कुछ सब्जेक्ट कॉमन होते है। कॉमन सब्जेक्ट हर एक विद्यार्थी को चुनना ही पड़ता है। वही ऑप्शनल सब्जेक्ट को विद्यार्थी अपने पसंद के हिसाब से चुन सकता है। ऑप्शनल सब्जेक्ट में कई सब्जेक्ट है जिसमे से विद्यार्थी अपने इंटरेस्ट के हिसाब से चुन सकता है।

अगर स्टूडेंट डॉक्टर, इंजीनियरिंग, रिसर्च डेवलपमेंट, फ़ूड एंड टेक्नोलॉजी, आईटी, टीचिंग, आर्किटेक्चर, क्षेत्र में करियर सेट करना चाहते है। तो विद्यार्थी को साइंस साइट की ही पढाई करनी होगी इसके अलावा भी साइंस बैकग्राउंड वाले स्टूडेंट क्षेत्र चुन सकते है। जिसमे मेडिकल क्षेत्र को छोड़कर और कई क्षेत्र के लिए दरवाजे खुल जाते है।

11वी और 12वी में विद्यार्थी वो सब्जेक्ट चुनता है जिससे उसे आगे की पढाई करने में आसानी हो। करियर की पढाई करने में आसानी हो। जैसे कोई स्टूडेंट 12वी के बाद मेडिकल क्षेत्र का कोई कोर्स करना चाहता है तो उसे इंटरमीडिएट में फिजिक्स, केमिस्ट्री, बायोलॉजी, साथ हिंदी, इंग्लिश की पढाई करनी होती है।

वही स्टूडेंट इंजीनियरिंग क्षेत्र में जाना चाहे तो उसे इंटरमीडिएट में फिजिक्स, केमिस्ट्री, मैथमेटिक्स, के साथ हिंदी, इंग्लिश की पढाई करनी पड़ती है। इसी क्षेत्र में उसे आगे की भी पढाई करनी होती है। और इसमें करियर सेट करना होता है। इन्ही विषय को लेकर ग्रेजुएशन या पोस्ट ग्रेजुएशन भी कर सकते है।

साइंस सब्जेक्ट की लिस्ट।

साइंस सब्जेक्ट में कई सब्जेक्ट होते है। जिसका मैंने ऊपर के लेख में भी जिक्र किया है। इसमें कुछ ऑप्शनल और कुछ कॉमन सब्जेक्ट होते है। सभी क्लास में साइंस सब्जेक्ट अलग अलग होते है। जैसे इंटरमीडिएट में साइंस स्टीम में कम सब्जेक्ट होते है। वही ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन में साइंस स्टीम के ज्यादा सब्जेक्ट और सिलेबस होते है।

क्र०विषयSubjects
1भौतिक विज्ञानPhysics
2गणितMathematics
3कंप्यूटर विज्ञानComputer science
4भूगर्भशास्त्रGeology
5जैव प्रौद्योगिकीBiotechnology
6कृषिAgriculture
7पोषण और डायटेटिक्सNutrition and Dietetics
8गृह विज्ञानHome Science
9रसायन विज्ञानChemistry
10जीव विज्ञानBiology
11नर्सिंगNursing
12इलेक्ट्रानिक्सElectronics
13कीटाणु-विज्ञानGermology
14बागवानीHorticulture
15प्राणि विज्ञानZoology
16फोरेंसिक विज्ञानForensic Science

साइंस स्टीम के पॉपुलर सब्जेक्ट।

क्र०विषयSubjects
1गणितMathematics
2भौतिक विज्ञानPhysics
3जैव प्रौद्योगिकीBiotechnology
4प्राणि विज्ञानZoology
5कीटाणु-विज्ञानGermology
6रसायन विज्ञानChemistry
7कंप्यूटर विज्ञानComputer Science
8वनस्पति विज्ञानBotany
9जीवविज्ञानBiology
10कृषिAgriculture

11वीं में साइंस में कौन कौन से सब्जेक्ट होते हैं?

10वी पास विद्यार्थी को 11वी में प्रवेश मिलता है लेकिन यहाँ पर कई विद्यार्थी साइंस स्ट्रीम को लेकर कंफ्यूज रहते है कौन कौन से सब्जेक्ट 11th में होते है। कौन से सब्जेक्ट्स ऑप्शनल है और कौन से सब्जेक्ट कॉमन है इसकी जानकारी आप निचे लेख से प्राप्त कर सकते है।

  • फिजिक्स
  • केमिस्ट्री
  • बायोलॉजी या मैथमैटिक्स
  • हिंदी
  • इंग्लिश

11वी और 12वी में विद्यार्थी को कुल मिलकर 5 सब्जेक्ट की पढाई कराइ जाती है। जिसमे बायोलॉजी और मैथमेटिक्स में से कोई एक सब्जेक्ट विद्यार्थी को चुनना रहता है। इसमें से स्टूडेंट इंटरेस्ट के हिसाब से कोई एक सब्जेक्ट चुन सकता है चाहे विद्यार्थी मैथ या बायोलॉजी चुन ले। और बाकि सब्जेक्ट कॉमन रहते है उन सभी सब्जेक्ट को विद्यार्थी को पढ़ना ही होगा।

12वीं में साइंस में कौन कौन से सब्जेक्ट होते हैं?

यदि विद्यार्थी 11वी पास करके 12वी में पहुंच चूका है तो 11वी जो जो सब्जेक्ट विद्यार्थी ने चुना होगा। वही सब्जेक्ट उसे 12वी में पढ़ना होगा। जैसे विद्यार्थी ने 11वी कक्षा में फिजिक्स, केमिस्ट्री, मैथ, हिंदी, और इंग्लिश, चुना है। तो उसे 12वी में भी यही सब्जेक्ट के अगले सिलेबस पढ़ने होंगे।

  • फिजिक्स
  • केमिस्ट्री
  • बायोलॉजी / मैथमेटिक्स
  • हिंदी
  • इंग्लिश

इसमें से विद्यार्थी को कुल 5 सब्जेक्ट पढ़ने होंगे। बायोलॉजी और मैथमेटिक्स ये ऑप्शनल सब्जेक्ट है इनमे से विद्यार्थी को कोई एक सब्जेक्ट चुनना होगा।

साइंस में कौन कौन सी जॉब होती है?

साइंस स्ट्रीम की पढाई के बाद बहुत सारे जॉब अवसर होते है। जिसमे विद्यार्थी आगे की पढाई करके जॉब प्राप्त कर सकता है। जैसे जैसे विद्यार्थी साइंस साइट से उच्च शिक्षा हासिल करते चला जाता है। उसके लिए उतने ही अधिक जॉब के लिए रास्ते खुलते चले जाते है।

इन क्षेत्रो में कई अलग अलग कोर्स कराये जाते है। इसके अलावा भी बहुत सारे करियर ऑप्शन साइंस स्ट्रीम में मिल जाते है। जोकि विद्यार्थी अपने इंटरेस्ट के हिसाब से कोर्स का चुनाव या स्किल का चुनाव कर सकता है। पूरा करके आसानी से इस क्षेत्र में करियर सेट कर सकता है।

मेडिकल में कौन कौन से सब्जेक्ट होते हैं?

मेडिकल क्षेत्र में बहुत सारे कोर्स कराये जाते है। सभी कोर्स में अलग अलग साइंस सब्जेक्ट विद्यार्थी को पढ़ाये जाते है। इसमें विद्यार्थी को ट्रेनिंग भी दी जाती है। उसके बाद विद्यार्थी पैरामेडिकल में अपना करियर पूरी तरह से सेट कर पाता है। लेकिन 12वी के मेडिकल क्षेत्र के कई कोर्स होते है जिसमे विद्यार्थी प्रवेश लेकर पढाई कर सकता है।

आशा करते है इस लेख में दी गयी जानकारी आपको पसंद आयी होगी इसमें मैंने अपने पाठको को बताया की साइंस में कौन कौन से सब्जेक्ट होते हैं- साइंस सब्जेक्ट की लिस्ट में कौन कौन से विषय शामिल है इस ब्लॉग पर इसी तरह के लेख से पाठको की हेल्प की जाती है। ऐसी ही जानकारी के लिए हमारे ब्लॉग पर पहले से पब्लिश अन्य आर्टिकल पढ़ सकते है।

यदि इस लेख से सम्बंधित आपका कोई प्रश्न है। या कोई डाउट है जिसका आप उत्तर जानना चाहते है तो उसे आप कमेंट सेक्शन के जरिये पूछ सकते है। उसका उत्तर आपको उसी माध्यम से अवश्य दिया जायेगा। यह पसंद आया हो तो इसे सोशल मीडिया पर शेयर करना न भूले।

Leave a Comment

error: Content is protected !!