Provident fund meaning in hindi-PF क्या होता है?

क्या आपको पता है कि pf क्या होता है? जो अगर आप कही नौकरी करते है चाहे वो सरकरी हो या प्राइवेट हो तो आप पीएफ का नाम ज़रूर सुने होगे व्यक्ति के मंथली वेतन से पीएफ कट जाता है बहुत लोगो को पीएफ के बारे पूर्ण जानकारी नहीं होती है तो आज मै इस आर्टिकल में बताएँगे कि Provident fund meaning in hindi. क्या होता है और पीएफ क्यों काटा जाता है Pf के फायदे क्या है ऐसे सवालो के जवाब जानेगे।

बहुत बार लोगो को पीएफ की समझ नहीं होती है और उन्हें लगता है कि ये एक प्रकिर्या है लेकिन ऐसा नहीं है जो अगर आप एक सरकारी या प्राइवेट Employee कर्मचारी है तो आपके लिये पीएफ बहुत माईने रखता है इससे आपका एक प्रकार का सेविंग हो जाता है तो आइये पीएफ से सम्बंधित जानकारी जानते है।

Provident fund meaning in hindi.

Provident fund meaning in hindi
Provident fund meaning in hindi

प्रोविडेंट फण्ड को शार्ट फॉर्म में PF कहा जाता है इसका हिंदी मतलब भविष्य निधि होता है किसी कम्पनी में काम कर रहे कर्मचारियों को प्रति माह वेतन दिया जाता है उस वेतन से कुछ प्रतिशत कम्पनी के मालिक या कर्मचारी द्वारा काट लिया जाता है उस प्रति माह कटे पीएफ को जब भी कर्मचारी रिटायर या उस जॉब को छोड़ता है तो उस पीएफ प्रीमियम को कुछ प्रतिशत व्याज के साथ लौटा दिया जाता है।

Pf क्या होता है?

पीएफ का फुल फॉर्म प्रोविडेंट फण्ड होता है और इससे EPF भी कहते है इसका पूरा नाम Employee Provident Fund होता है इस संस्था को EPFO एम्प्लोयी प्रोविडेंट फण्ड आर्गेनाइजेशन के द्वारा चलाया जाता है ये एक सरकारी योजना है जो कर्मचारियों के भविष्य फण्ड के लिये शुरू किया गया था।

इस संस्था को 1952 में शुरू किया गया था इस योजना की पूरी जिम्मेदारी केंद्र सरकार के पास होती है पीएफ उस कम्पनी में काटा जाता है जिस कम्पनी में 20 कर्मचारी से ज्यादा काम करते है सैलरी से कुछ परसेंट काटकर आपके PF अकाउंट में जमा कर देते है इस पैसे को आप बहुत ही आसानी ले सकते है।

Pf कितने प्रतिशत कटता है?

जो अगर अभी बात करे कि किसी कम्पनी द्वारा कितने प्रतिशत वेतन से Pf कटता है तो मै आपको बता दू हर कर्मचारी के वेतन से 12% हर महीने पीएफ काटा जाता है जिसमे 3.67 प्रतिशत EPF के रूप में आपके एम्प्लोयी प्रोविडेंट फण्ड में जमा हो जाता है और 8.33 प्रतिशत आपके EPS यानि एम्प्लोयी पेंशन स्कीम खाते जमा हो जाता है और इसे रिटायरमेंट के टाइम उसमें कुछ प्रतिशत व्यास के साथ वापस किया जाता है।

पीएफ कितने प्रकार का होता है?

Pf क्या होता है- ये तो समझ आ गया होगा अब बात करते है कि Pf कितने प्रकार के होते है पीएड वैसे तो चार प्रकार होते है।

  • वैधानिक प्रोविडेंट फण्ड – (Statutory Provident Fund)
  • मान्यताप्राप्त प्रोविडेंट फण्ड – (Recognized Provident Fund)
  • अमान्यताप्राप्त प्रोविडेंट फण्ड – (Unrecognized provident Fund)
  • सार्वजानिक प्रोविडेंट फण्ड – (Public Provident Fund)

GPF और EPF में क्या अंतर है?

क्या आपने EPF के साथ साथ GPF का नाम भी सुना है आइये इसके बारे में भी जानते है।

GPF क्या है-इसका पूरा नाम Genral Provident Fund होता है ये केवल उन कर्मचारियों के लिये होता है जो सरकारी होते है ये प्राइवेट कर्मचारी के लिए नहीं होता है हर सरकारी नौकरी करने वाले कर्मचारी के वेतन से हर महीने जीपीएफ कटता है जब तक कर्मचारी रिटायर नहीं हो जाता है रिटायर होने से 3 महीने पहले इस अकाउंट को बंद कर दिया जाता है GPF के माध्यम से सरकारी कर्मचारी चाहे तो लोन भी ले सकता है।

EPF क्या है- ये हर प्राइवेट कम्पनीओ या संस्थनो में इसकी सुविधा दी जाती है जिस कम्पनी में 20 से अधिक कर्मचारी काम करते है तो वहा EPF यानि एम्प्लोयी प्रोविडेंट फण्ड की सुविधा दी जाती है जैसे कर्मचारी रिटायर होता है उसका पैसा पीएफ वाले अकाउंट में कुछ व्याज से साथ वापस कर दिया जाता है।

Pf के फायदे क्या है?

पीएफ जमा करने के फायदे क्या होते है अब इस विषय पर कुछ जानकारी जानेंगे।

पैसे सेव करने का जरिया-पीएफ जमा करके एक अच्छा तरीका हो सकता है पैसे सेव करने के लिये हर किसी को आवश्यकता होती है कि हमारे पास अच्छा फण्ड हो जाये जिससे शादी घर गाड़ी और कुछ ज़रूरते पूरी कर सके हर व्यक्ति एक समय के बाद रिटायर हो जाता है इस लिये पैसे इकठ्ठा करने के लिये अच्छा तरीका हो सकता है।

टैक्स फ्री-जिस प्रकार से लोग आम जीवन में अपने सेविंग पैसो पर Income Tax भरते है बहुत

लोग टैक्स बचाने के लिये अलग अलग जगहों पर निवेश करते है इस प्रकार से Pf जमा करके इनकम टैक्स बचा सकते हो और इस पर सरकार 8 प्रतिशत व्याज भी देती है।

UNA Number- इस नंबर के जरिये अपने पीएफ अकाउंट को आसानी से कही लिंक कर सकते हो जैसे आपको नौकरी बदलनी है इस दशा में आसानी अपने पीएफ अकाउंट को मैनेज कर सकते हो।

फ्री इन्शुरन्स-इसके माध्यम से आपको आसानी 6 लाख रूपये तक Insurance फ्री मिल जाता है।

पेंशन योजना-Eps के माध्यम से आपको 8.33 प्रतिशत आपको पेंशन स्कीम भी मिल जाती है 12 प्रतिशत जमा राशि में से 8.33 प्रतिशत का पेंशन बन जाता है और उसके बाद हर महीने इंसटालमेन्ट में दिया जाता है।

इस आर्टिकल से आपने क्या सीखा है?

इस पोस्ट से मैंने सीखा Provident fund meaning in hindi क्या होता है Pf क्या होता है- पीएफ कितने प्रकार के होते है pf के फायदे क्या है gpf क्या है epf क्या है ऐसे कई सवालों के जवाब इस आर्टिकल से मिले और PF से सम्बंधित बहुत अच्छी जानकारी सीखे है।

निष्कर्ष Conclusion

मै उम्मीद करता हूँ कि आपको Provident fund meaning in hindi-PF क्या होता है?इस पोस्ट से काफी हेल्प मिला होगा और आपको पीएफ से सम्बंधित सारे प्रॉब्लम दूर हो गये होंगे जो अगर आपको इससे सम्बंधित कोई सवाल है तो आप कमेंट करके पूछ सकते है मै उसका जवाब आपको ज़रूर दूंगा तथा आप ऐसे पोस्ट पढ़ेंने में इंटरेस्ट रखते है तो आप हमारे फेसबुक और इंटस्टाग्राम के पेज को फॉलो करे और हर रोज नई नई जानकारी पाये हिंदी में. (धन्यवाद्)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!