पीएफ कितने दिन में निकलेगा – पीएफ कितने दिन में आता है?

अधिकतर प्राइवेट सेक्टर के कर्मचारी और गवर्नमेंट सेक्टर के कर्मचारी के मन में पीएफ से जुड़े कई महत्वपूर्ण प्रश्न होते है। जैसे- पीएफ कितने दिन में निकलेगापीएफ खाता में कितने दिन में आता है, और पीएफ निकालने के नियम क्या है, इन सभी प्रश्नो के मैं विस्तार से उत्तर देने वाला हूँ अधिक जानकारी के लिए आलेख को निचे तक पढ़े।

नौकरीपेशा कर्चारियों के लिए पीएफ काफी अच्छा निवेश और बचत का जरिया है। जो अक्सर लोगो के रिटायरमेंट के बाद पीएफ राशि मददगार साबित है। लेकिन कई कर्मचारी नौकरी के दौरान ही पीएफ राशि निकालना पसंद करते है। वही कई प्राइवेट सेक्टर के एम्प्लोयी कम्पनी बदलने या नौकरी छोड़ने के बाद पीएफ राशि निकालते है।

पीएफ अकाउंट में जमा राशि को कई बार मेडिकल इमरजेंसी, शादी-विवाह, बच्चो के शिक्षा के खर्च, के लिए लोगो के द्वारा निकाला जाता है। लेकिन पीएफ अकाउंट से पैसे निकालने के लिए पहले अप्लाई करना पड़ता है। विथड्रावल करने के लिए अप्लाई करने के बाद कई दिनों का वक़्त अकाउंट में पैसे आने में लग जाते है।

ईपीएफ अकॉउंट में राशि पर सरकार के द्वारा तय दर के हिसाब से ब्याज भी दिया जाता है। लेकिन यह ब्याज दर वार्षिक बदलता रहता है। पीएफ अकाउंट में ब्याज तब तक मिलता है। जब क्लेम सेटलमेंट न हो जाये। सेटलमेंट होने के बाद ब्याज नहीं मिलता है।

पीएफ कितने दिन में निकलेगा?

pf-kitne-din-me-niklega

पीएफ अकाउंट से पैसे निकालने के लिए कुछ समय पहले 20 दिनों का समय लग जाता था। लेकिन कोरोना वायरस के आने से ईपीएफ के कई नियमो के बदलाव के किये है। जिसमे पीएफ अकाउंट से पैसे निकालने में लगने वाले समय को कम कर दिया गया है। अब किसी भी व्यक्ति के द्वारा पीएफ अकाउंट से 3 – 5 दिनों में पैसा निकाला जा सकता है।

Pf Account से बैंक में पैसे ट्रांसफर करने या निकालने की अवधी 3 – 5 दिनों की है। लेकिन एप्रूव्ड होने और अकाउंट क्रेडिट होने में आमतौर पर 7 दिनों का समय लग जाता है। इसलिए पीएफ अकाउंट से पैसे निकालने के लिए आपको इतने समय तक इंतिजार करना पड़ सकता है। अगर अप्लाई किये फॉर्म में किसी भी प्रकार की कोई गलती होती है। तो यह फॉर्म ख़ारिज भी हो सकता है।

लेकिन ईपीएफओ एक ऐसे सिस्टम पर काम कर रहा है। जिससे मेंबर को बहुत कम में पीएफ अकाउंट से निकाले गए पैसे बैंक अकाउंट में मिल जायेगा। यानि जिस दिन मेंबर विथड्रावल के लिए फॉर्म अप्लाई करता है। उसी दिन उसे लिंक बैंक अकाउंट में पैसे मिल जायेंगे।

ईपीएफओ इस सिस्टम के जरिये से नौकरी पेशा लोगो की काफी हेल्प करने वाला है। जिस तरह से अभी पीएफ अकाउंट से पैसे निकालने के लिए 7 दिनों का समय लगता है। जिसमे लोगो को कई बार दिक्कतों का सामना भी करना पड़ता है। इसलिए सेम डे में पैसे विथड्रावल से लोगो को काफी हेल्प मिलेगी। इसके लिए कोई कागजी कार्यवाई की भी आवश्यकता नहीं होगी।

नौकरी छोड़ने के कितने दिन बाद पीएफ निकाल सकते हैं?

नौकरीपेशा लोगो के लिए पीएफ अकाउंट में जमा राशि एक निवेश की तरह होता है। इस राशि में सरकार के द्वारा ब्याज भी दिया जाता है। लेकिन कई बार इमरजेंसी पर यह निवेश लोगो के द्वारा निकाला भी जाता है। पीएफ अकाउंट से पैसे नौकरी के दौरान और नौकरी छोड़ने के बाद निकाल सकते है।

अधिकतर नौकरी पेशा लोगो के द्वारा रिटायरमेंट के बाद पीएफ अकाउंट से पैसे निकाले जाते है। लेकिन कई नौकरी पेशा कर्मचारी नौकरी के दौरान ही पीएफ अकाउंट से पैसे निकाल लेते है। यह खास करके प्राइवेट सेक्टर में नौकरी करने वाले कर्मचारी करते है। वह एक नौकरी छोड़ने या नौकरी बदलने पर पीएफ राशि विथड्रावल कर लेते है।

नौकरी छोड़ने के 1 महीने बाद 75 फीसदी तक पीएफ अकाउंट में जमा राशि को विथड्रावल कर सकते है। वही नौकरी छोड़ने के 2 महीने बाद 100 फीसदी पीएफ अकाउंट में जमा राशि को निकाली जा सकती है। यानि पीएफ अकाउंट से पूरा पैसे निकालने के लिए 2 महीने का इंतिजार करना होगा।

क्या पीएफ डबल मिलता है?

पीएफ अकाउंट में जमा की जाने वाली 12% राशि कर्मचारी के वेतन से हर महीने काटी जाती है। जिसमे 3.67% कम्पनी के द्वारा भी कर्मचारी के पीएफ अकाउंट में जमा किया जाता है। यानि कर्मचारी के पीएफ अकाउंट में 15.67% कंपनी का हिस्सा और कर्मचारी के वेतन से काटे गए पैसो को जमा किया जाता है।

कर्मचारी के पीएफ अकाउंट में जमा राशि पर सरकार भी कुछ प्रतिशत का ब्याज देती है। लेकिन सरकारी के द्वारा दिया जाने वाले ब्याज कम और ज्यादा हुआ करता है। लेकिन जैसे-जैसे पीएफ अकाउंट वेतन और कंपनी के हिस्से का पैसा जमा होता जाता है। उस पर अधिक ब्याज भी आवेदक को मिलता जाता है।

इसलिए जितने अधिक वर्षो तक कर्मचारी के द्वारा पीएफ अकाउंट से पैसे नहीं निकाले जायेंगे। उतना अधिक सरकारी के द्वारा दी जाने वाली ब्याज रकम को बढ़ा सकते है। अगर आप पीएफ अकाउंट से रिटायरमेंट के पहले ही पैसे निकालते है। तो पीएफ अकाउंट में कम ब्याज मिलता है।

पीएफ का पैसा कितने दिन में आ जाता है?

पीएफ अकाउंट से पैसे विथड्रावल करने के बाद कर्मचारी को कम से कम 7 दिनों का समय लग सकता है। इससे अधिक समय भी पीएफ अकाउंट से पैसे निकालने में लग सकता है। कोरोना से पहले पीएफ अकाउंट से पैसे निकालने के लिए 20 दिनों का समय या इससे अधिक समय लग जाता था। लेकिन अभी एपीएफओ में काफी नियम बदल चुके है। अभी पीएफ अकाउंट से पैसे निकालने के लिए 7 दिनों का समय लग सकता है।

कई बार पीएफ अकाउंट से पैसे निकालने पर अभी 7 दिनों से अधिक समय लग जाता है। इसलिए आपको 7 वर्किंग डे इंतिजार करने के बाद घबराना नहीं है। हो सकता है 8 से 10 दिनों का समय भी लग जाये। इसलिए आपके द्वारा अप्लाई किया विथड्रावल फॉर्म जब तक कैंसिल न हो जाये। जब तक इंतिजार करना चाहिए।

समाप्त

इस लेख में दी जानकारी से पीएफ कितने दिन में निकलेगा और पीएफ कितने दिन में आता है, मिल गया होगा। उम्मीद है आपके द्वारा खोजे जा रहे प्रश्न का उत्तर मिल गया होगा। यदि इस लेख से जुड़ा आपका किसी भी तरह का कोई प्रश्न है। जिसका आप उत्तर जानना चाहते है। उसे कमेंट करके पूछ सकते है। उसका उत्तर अवश्य आपको दिया जायेगा।

पीएफ से जुड़े कई आर्टिकल पहले से इस ब्लॉग पर पब्लिश किये जा चुके है। अधिक जानकारी के लिए आप उन लेख को भी पढ़ सकते है। जिसका लिंक आपको लेख में ऊपर मिल जायेगा। इस लेख से हेल्प मिला हो तो आगे भी शेयर करे।

Leave a Comment

error: Content is protected !!