म्यूचुअल फंड के नुकसान।

क्या आप म्यूच्यूअल फण्ड के बारे में जानते है अगर आप म्यूच्यूअल फण्ड के निवेशक है और यह जानकरी नहीं है कि म्यूचुअल फंड के नुकसान। क्या है तो इस लेख में इस विषय की कुछ जानकारी प्राप्त करेंगे इसके अलावा ये भी जानेगे कि कौन सा म्यूचुअल फंड सही है. किसमे निवेश करना चाहिए इसकी बात भी करेंगे।

वैसे तो म्यूच्यूअल फण्ड एक सही निवेश माना जाता है Mutual Fund Scheme में Long Term के लिए अधिक लोग इन्वेस्टमेंट करते है जिससे म्यूच्यूअल फण्ड में नुकसान होने के चांस बहुत कम हो जाते है फिर भी कई प्रकार के म्यूच्यूअल में फण्ड निवेशक को नुकसान का सामना करना पड़ सकता है यदि आप भी म्यूच्यूअल फण्ड के निवेशक है तो इन बातो पर गौर करियेगा।

म्यूच्यूअल फण्ड में आप किसी ब्रोकर के थ्रो या किसी कंपनी के जरिये डायरेक्ट निवेश कर सकते है वैसे म्यूच्यूअल फण्ड में अधिकतर ब्रोकर के थ्रो लोग अपना पैसा लगाना सही समझते है इससे रिटर्न अच्छा मिलता है म्यूच्यूअल फण्ड के रूप में ब्रोकर अधिक निवेशकों से पैसा इकठ्ठा करता है फिर उसे अलग अलग स्टॉक में निवेश करता है या ट्रेडिंग करता है जब उस पैसे से अच्छी कमाई कर लेते है तो उस कमाई का कुछ हिस्सा अपने निवेशक यानि म्यूच्यूअल फण्ड के इन्वेस्टर को दिया जाता है।

Mutual Fund की इन्वेस्टमेंट को काफी सुरक्षित माना जाता है क्योकि म्यूच्यूअल फण्ड के निवेशकों के पैसो को कई अलग अलग स्टॉक में लगाया जाता है ताकि एक तरफ नुकसान हो तो दूसरी तरफ से फायदा हो इससे एवरेज बना रहता है जिससे निवेशक को अधिक नुकसान उठाने की आवश्यकता नहीं होती है फिर भी म्यूच्यूअल फण्ड में कुछ प्रकार के नुकसान का सामना करना पड़ सकता है।

म्यूचुअल फंड के नुकसान।

mutual-fund-ke-nuksan.

अधिकतर इन्वेस्टमेंट प्लेटफार्म पर निवेशक को कुछ न कुछ नुकसान देखने को मिलता ही है उस प्रकार से Long Term के Money investment में रिस्क होता है उस पर हम लोग विस्तृत चर्चा करेंगे।

वैसे कही भी पैसे निवेश करने पर कुछ रिस्क दीखते है चाहे वो किसी प्रॉपर्टी में हो शेयर मार्किट में हो म्यूच्यूअल फण्ड में हो या किसी दूसरे निवेश प्रॉपर्टी में हो कुछ न नुकसान होने के चांस होते है आइये जानते है।

मुनाफा की कोई गारंटी नहीं है.

म्यूच्यूअल फण्ड में रिटर्न की अनिश्चितता होती है कोई गारंटी नहीं होता है की म्यूच्यूअल फण्ड निवेशक को मुनाफा ही मिलेगा क्योकि म्यूच्यूअल फण्ड स्टॉक मार्किट से जुड़ा एक पहलु है जिस तरह से स्टॉक मार्किट में हर पल मूल्य में उतार चढ़ाव देखने को मिलता है कभी भी स्टॉक का मूल्य कम हो जाता है और कभी भी बढ़ जाता है।

पढ़े:- न्यूनतम राशि शेयर बाजार में निवेश करने के लिए क्या है?

इसी प्रकार म्यूच्यूअल फण्ड का रिटर्न ऊपर निचे हुआ करता है यदि आप चाहते है की कम समय में म्यूच्यूअल फण्ड से अधिक रिटर्न प्राप्त करेंगे तो सायद आप यहाँ गलत हो सकते है वही आप लम्बे समय के लिए आप निवेश करते है तो आपको अच्छा रिटर्न मिल सकता है इसलिए हमेशा लॉन्ग टर्म के लिए इन्वेस्टमेंट करना चाहिए।

म्यूच्यूअल फण्ड के खर्चे।

म्यूच्यूअल फण्ड को सभालने के लिए निवेश से एक्सपेंस रेसियो के रूप में फण्ड हॉउस को कुछ पैसा चला जाता है म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश के लिए कुछ खर्चे भी लगते है यह खर्चे एक साल तक कम होते है लेकिन कुछ समय बाद यह खर्चे बढ़ते चले जाते है और म्यूच्यूअल फण्ड के लाभ में कुछ कटौती हो जाती है।

इसलिए आप जब भी म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश करने के बारे में सोचे तो म्यूच्यूअल फण्ड निवेश खर्चो को सही से जान ले ताकि आपको बाद में कोई परेशानी न हो म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश प्लेटफार्म Exit load भी कुछ प्रतिशत काटते है जो निवेशक को देना होता है।

लॉक इन अवधि।

कुछ म्यूच्यूअल फण्ड लॉक इन अवधि होते है लेकिन सभी म्यूच्यूअल फण्ड लॉक इन अवधी नहीं होता है लॉक इन अवधि क्या है मैं आपको बताता है इसका मतलब यह है की लॉक इन अवधि वाले म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश करते है तो आप अवधि के अंदर फण्ड भुना नहीं सकते है यानि उस पैसे को आप निकाल नहीं सकते है।

अतः आप म्यूच्यूअल फण्ड में उन पैसो को निवेश करे जिनकी आवश्यकता लॉक इन अवधि तक न पड़े यानि अपने उन पैसो का निवेश करे जिसका आने वाले एक दो साल में काम नहीं आने वाला है उस पैसो को कही निवेश न करे जो आने वाले कल में काम आने वाला है।

कम रिटर्न।

आपको मैं बता दू की म्यूच्यूअल फण्ड में रिस्क कम होता है इस कारण से आपको यहाँ कम रिटर्न भी देखने को मिलता है अधिक मुनाफा म्यूच्यूअल फण्ड में कामना असंभव है क्योकि म्यूच्यूअल फण्ड निवेशक के पैसो को कई कंपनी के स्टॉक में निवेश किया जाता है और वहा से प्राप्त मुनाफा में से कुछ प्रतिशत म्यूच्यूअल फण्ड निवेशक को मिलता है।

यदि आप अधिक मुनाफा कमाना चाहते है तो आपके लिए म्यूच्यूअल फण्ड सही साबित नहीं हो सकता है इसके लिए आपको डायरेक्ट स्टॉक में निवेश करना चाहिए अधिक मुनाफा कमाने के लिए आपको अधिक रिस्क भी लेना पड़ेगा।

इनकम टैक्स।

आप सभी के जानकारी के लिए बता दे म्यूच्यूअल फण्ड रिटर्न पर इनकम टैक्स रिटर्न करना होता है यदि आप म्यूच्यूअल फण्ड से अधिक रिटर्न कम समय में कमाते है तो आपको STCG (Short Term Capital Gain) और एक वर्ष से अधिक समय में आप म्यूच्यूअल फण्ड से कमाई करते है तो आपको LTCG (Long Term Capital Gain) देना होता है।

कैपिटल गेन भी एक प्रकार का इनकम स्रोत्र है इस लिए गवर्नमेंट लॉन्ग टर्म और शार्ट टर्म कैपिटल गेन पर इनकम टैक्स लेती है यह एक निवेशक के लिए बड़ा खर्चा है जो आपके द्वारा म्यूच्यूअल फण्ड से की गयी कमाई पर म्यूचुअल फंड के नुकसान। के रूप में दिखता है।

इसे भी पढ़े..

कौन सा म्यूचुअल फंड सही है?

किसी भी म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश करने से पहले आपको कुछ बातो को ध्यान में रखना ज़रूरी है तभी आप एक अच्छा म्यूच्यूअल फण्ड का चयन कर सकते है।

  • म्यूच्यूअल फण्ड की रेटिंग का जाँच करना है।
  • जिस म्यूच्यूअल फण्ड स्कीम में निवेश कर रहे है उसके पिछले प्रदर्शन को चेक करना है।
  • एयूएम पोर्टफोलिओ की एनालिसिस करे म्यूच्यूअल फण्ड की आयु को चेक करे।
  • निकास भार और अन्य फैक्टर की एनालिसिस करना है।
  • उन म्यूच्यूअल फण्ड स्कीम में निवेश करे जो पीछे अच्छा मुनाफा अपने निवेशक को दे चुकी है।
  • उस कंपनी के म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश करे जो डेली बेसेस पर अपना बिज़नेस कर रही है और प्रॉफिट कमा रही है।
  • म्यूच्यूअल में पहले कम पैसो से शुरुआत करके देखे और सीखे या एसआईपी शुरू करे है।

निष्कर्ष

आज के इस आर्टिकल में हम लोगो ने जाना म्यूचुअल फंड के नुकसान। के बारे में, इस नुकसान कारक को ध्यान में रखकर ही म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश करना शुरू करे नहीं तो आपको इस मार्किट में नुकसान का सामना करना पड़ सकता है इस किसी भी म्यूच्यूअल फण्ड स्कीम में निवेश से पहले सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त कर ले।

यदि इस लेख से सम्बंधित कोई जानकारी रह गयी हो या आपका कोई सवाल है जिसके बारे में आप जानना चाहते है उसे आप कमेंट के माध्यम से हम तक पहुंचा सकते है उसका उत्तर आपको उसी कमेंट के निचे मिल जायेगा।

इस लेख से आपको मदद मिली हो और पसंद आया हो तो इसे सोशल मीडिया पर शेयर करे ताकि यह जानकारी अधिक लोगो तक पहुंच जाये और इस यूज़फूल जानकारी का फायदा उठा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!