मैकेनिकल इंजीनियर (Mechanical Engineer) कैसे बने?

मैकेनिकल इंडस्ट्री में हमेशा ग्रोथ होता रहा है और जिस प्रकार से हो रहा है ऐसा लगता है की होता भी रहेगा इसलिए अधिकतर स्टूडेंट अपना करियर मैकेनिकल इंजीनियर बनकर बनाना चाहते है इसलिए इस आर्टिकल में विस्तृत जानकारी देने वाला हूँ की मैकेनिकल इंजीनियर कैसे बने. मैकेनिकल इंजीनियरिंग क्या है. Mechanical Engineering course, के बारे में विस्तृत जानकारी प्राप्त करेंगे।

इंटरमीडिएट तक पढाई करने में हर छात्र को आसानी होती है वही 12th पास करने के बाद अधिकांश छात्रों के सामने यह चुनैती बनकर खड़ा होता है की किस क्षेत्र में अपना करियर बनाये अगर ये बात आपके दिमांग में भी है तो इसका जवाब यह है की जिस क्षेत्र में आपका दिलचस्पी (Interest) है उसी क्षेत्र में आगे की पढाई करे।

Mechanical Engineer kaise bane?

अगर आप मशीनरी सम्बंधित सीखने उनके छोटे बड़े पुर्जो के बारे जानने में या मशीन बनाने में रूचि रखते है तो यह क्षेत्र आपके लिए लाभकारी हो सकता है इस क्षेत्र में आप करियर बना सकते है।

अगर मैकेनिकल इंजीनियरिंग कोर्स करने के लिए तय कर चुके है तो आप एक सही आर्टिकल पर आ चुके है इस आर्टिकल में आपको विस्तार मैकेनिकल इंजीनियरिंग कोर्स, से सम्बंधित जानकारी दी जाएगी और यह भी बताया जायेगा की मैकेनिकल इंजीनियरिंग सब्जेक्ट्स, मैकेनिकल इंजीनियरिंग salary क्या होती है।

मैकेनिकल इंजीनियरिंग क्या है?

पहले यह जानते है की Mechanical engineering kya hai. मैकेनिकल इंजीनियरिंग कोर्स में छात्रों को मशीन से जुडी जानकारी के बारे पढ़ाया और सिखाया जाता है मशीन कैसे बनाना है मशीन डिज़ाइन कैसे करना है पुरानी मशीनो में लगे पुर्जो को कैसे ठीक करना है ताकि मशीन अच्छी परफॉरमेंस दे इसके अतिरिक्त मशीन से जुडी जानकारी दी जाती है।

इस क्षेत्र में उत्पादन आयल और गैस विनिमार्ण (Manufacturing) ऑटोमोबाइल बिजली उत्पादन मशीन आदि जैसे कामो को पूरा करना मैकेनिकल इंजीनियर का कार्य होता है।

मैकेनिकल इंजीनियरिंग शब्द से साफ़ जाहिर होता है की यह कोर्स मशीन मैकेनिकल सिस्टम से जुड़े कामो है तथा इसके बारे में प्रैक्टिकल और थ्योरी दोनों प्रकार से जानकारी दी जाती है ताकि अनेक अनेक प्रकार की मशीनो की डिज़ाइन और प्रोडक्शन करने में आसानी हो।

Mechanical Engineering सभी Engineering क्षेत्रों में से सबसे पुरानी और मजबूत शाखाओ में से एक है यह क्षेत्र हमेशा एवर ग्रीन रहा है इस क्षेत्र में कभी काम की कमी नहीं हुयी है यह एक ऐसा क्षेत्र है पढाई पूरी करने के बाद चाहे तो प्राइवेट सेक्टर या गवर्नमेंट सेक्टर में भविष्य बना सकता है।

यह भी पढ़े,

मैकेनिकल इंजीनियर कैसे बने?

इस कोर्स को करने के लिए आपको कुछ शैक्षणिक योग्यता की आवश्यकता होगी तभी मैकेनिकल इंजीनियरिंग कोर्स को किया जा सकता है।

योग्यता

किसी भी कोर्स को करने के लिए एजुकेशन क्वालिफिकेशन बहुत आवश्यक है साथ ही पहले से निश्चित करना भी ज़रूरी है की आगे किस फील्ड में पढाई करनी है 10वी तक कोई मुश्किल नहीं होती है यही 10वी पास करने के बाद विषय चुनने होते है।

10वी पास करने के बाद 12वी में पीसीएम वर्ग यानि physics, chemistry, mathematics, विषय से ही प्रवेश ले और पास करे लेकिन इंटरमीडिएट में 50% मार्क ज़रूरी है।

12th पास करने के बाद मैकेनिकल इंजीनियरिंग से B.tech करना होगा ताकि इंजीनियरिंग फील्ड की विस्तृत जानकारी आपको हो जाये यह किसी मान्यता प्राप्त कॉलेज यूनिवर्सिटी से कर सकते है।

कई स्टूटेंड 12 वी के बाद इंटीग्रेटेड प्रग्राम से मैकेनिकल इंजीनियरिंग कोर्स करते है यह 5 साल का कोर्स है इस कोर्स में B.tech और M.tech दोनों कोर्सो को साथ ही कराया जाता है तथा एमटेक और बीटेक के सर्टिफिकेट भी दिए जाते है।

  1. 10वी पास करे : अगर आप मैकेनिकल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा कोर्स करना चाहते है तो आपको 10 क्लास फिजिक्स केमिस्ट्री माथेमैटिक से पास करना होगा फिर मैकेनिकल इंजीनियरिंग से डिप्लोमा करना है यह कोर्स 3 वर्ष का होता है अगर आप 12 क्लास पास कर चुके है तो यह 2 वर्ष का होगा।
  2. 12वी पास करे : फिर एंट्रेंस एग्जाम के लिए तैयारी करना होगा इसके लिए स्टेट लेवल एग्जाम आयोजित की जाती है इसके अलावा यूनिवर्सिटी लेबल कॉलेज लेबल भी एंट्रेंस एग्जाम होते है जिसमे आप शामिल हो सकते है।
  3. एंट्रेंस एग्जाम : कई प्राइवेट कॉलेज में डायरेक्ट प्रवेश भी मिल जाता है नहीं तो कुछ कॉलेज में इन एंट्रेंस एग्जाम VITEEE, UPSEE, MHT CET, पास करने होते है इसके अतिरिक्त भी कई एंट्रेंस परीक्षा होती है प्रवेश लेने के लिए।
  4. मैकेनिकल इंजीनियरिंग की पढाई : किसी कॉलेज में प्रवेश मिल जाने के बाद आपको 4 साल की पढाई पूरी करनी है जैसे पढाई पूरी होती है आपको मैकेनिकल इंजीनियरिंग की डिग्री प्राप्त हो जाएगी उसके बाद प्राइवेट सेक्टर और गवर्नमेंट सेक्टर के दरवाजे खुल जायेंगे और उन क्षेत्रों में आप नौकरी प्राप्त कर सकते है।

मैकेनिकल इंजीनियरिंग सब्जेक्ट्स।

इस कोर्स में कुछ मत्वपूर्ण विषयो की पढाई छात्रों को पढाई जाती है ये मैकेनिकल इंजीनियरिंग कोर्स के कुछ प्रमुख विषय है जो निचे देख सकते है।

  • ट्रांज़िशन एंड टर्बुलेन्स
  • प्रिंसिपल ऑफ़ वाइब्रेशन कण्ट्रोल
  • वेब प्रोपगरेशन इन सॉलिड्स
  • रेलरोड व्हीकल डायनामिक
  • रोबोट मैनीपुलेटर डायनामिक एंड कण्ट्रोल
  • मॉडलिंग एंड टरबुलेंट कम्बुशन
  • फंडामेंटल कास्टिंग एंड सोलिडिफिकेशन
  • कम्प्यूटर ऐडेड डिज़ाइन ऑफ़ थर्मल सिस्टम
  • कम्युनिकेशन फ्लूइड डायनामिक एंड हीट ट्रांसफर
  • इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग एंड ओप्रशन रीसर्च

मैकेनिकल इंजीनियरिंग salary

अभी मैकेनिकल इंजीनियर के वेतन की बात करे तो यह कंपनी और आपके अनुभव पर निर्भर करती है लेकिन एक अनुमानित वेतन शुरुआती दौर में 30,000 से 40,000 रूपये प्रति महीने दिए जाते है जैसे जैसे अनुभव Experience बढ़ता जाता है और प्रमोशन मिलता है और सीनियर मैकेनिकल इंजीनियर बनने के बाद 50,000 से 1,00,000 रूपये तक हर महीने भी प्राप्त होते है।

बेस्ट कॉलेज इन इंडिया।

आइये जानते है भारत में टॉप कॉलेजेस कौन से है मैकेनिकल इंजीनियरिंग कोर्स करने के लिए अक्सर छात्र इन सवालो को लेकर परेशान रहते है।


क्रमांक
कॉलेजपता
1इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी बॉम्बेबॉम्बे
2इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी दिल्लीदिल्ली
3इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी मद्रासमद्रास
4इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी कानपूरकानपूर यूपी
5इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी रोरकीरोरकी
6इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी गुहाटीगुहाटी
7इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी बनारस हिन्दू विश्वविधालयबनारस
8अन्ना यूनिवर्सिटीचेन्नई
9बीएमएस कॉलेज ऑफ़ इंजीनियरिंगकर्नाटका
10अमेठी स्कूल ऑफ़ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजीनॉएडा यूपी
11सरदार पटेल कॉलेज ऑफ़ इंजीनियरिंगमहाराष्ट्र
12बिरला इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी एंड साइंसपिलानी
13जादव यूनिवर्सिटीवेस्ट बंगाल
14मोतीलाल नेहरू नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजीइलाहाबाद
15पीएसजी कॉलेज ऑफ़ टेक्नोलॉजीतमिल नाडु

Conclusion

मैं उम्मीद करता हूँ ये आर्टिकल आपको पढ़ने में पसंद आया होगा इस आर्टिकल में मैकेनिकल इंजीनियर कैसे बने. और मैकेनिकल इंजीनियरिंग कोर्स, से सम्बंधित जानकारी का उल्लेख किया गया है जो इस क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहता है उसके लिए यह आर्टिकल काफी लाभकारी हो सकता है।

इस पेज पर दी गयी जानकारी में कुछ न समझ आया हो या आपका कोई सवाल हो तो उसे आप पूछ सकते है उसका जवाब अवश्य दिया जायेगा और हाँ अगर आप यहा तक पढ़ रहे तो इसे शेयर करना न भूले ताकि और लोगो को इसकी जानकारी हो सके।

Leave a Comment

error: Content is protected !!