Iso क्या है-iso full form-iso meaning in hindi?

क्या आपने भी आईएसओ का नाम सुना है तथा ISO के बारे में जानना चाहते हो तो आपको इस आर्टिकल में हम बताएँगे iso क्या है? iso full form in hindi और इससे सम्बंधित कुछ अन्य जानकारिया भी जानेगे जो अगर आप बिज़नेस से जुडी हुयी चीजों को जानने में इंटरेस्ट रखते हो तो आप कही न कही ISO का नाम ज़रूर सुना होगा।

लोगो में अपने बिज़नेस या कम्पनी का ट्रस्ट पैदा करना बहुत ज़रूरी है क्योकि बढ़ते धोखा धड़ी को देखते हुए हर व्यक्ति जागरूक हो रहा है और सचेत हो रहा है किसी वस्तु को खरीदने के लिए बहुत ज्यादा छान बीन करते है कई जगहों और दुकानों पर वस्तुओ के क्वालिटी के बारे जानते है और व्यसाय या कम्पनीओ के लाइसेंस और सर्टिफिकेट पर भी गौर करते है इसलिये ISO Certification हर व्यसाय बिज़नेस के लिये ज़रूरी है।

ISO क्या है?

ISO kya hai
ISO kya hai

आईएसओ एक ऐसी संस्था जिसके द्वारा कम्पनी में उत्पादित वस्तु (Product) का जांच करके ग्रहको को सचेत करती है कि इस कम्पनी की वस्तुये शुद्ध और इस्तेमाल करने के लायक है बेसिकली ISO के माध्यम से कम्पनी और संगठनो में बनाये गये माल को जांच करके शुद्धता और अशुद्धता को पहचानना और ग्राहकों को प्रोडक्ट के प्रति एक विश्वास बनाने का काम करती है।

ISO द्वारा कम्पनी के वस्तुओ में शुद्धता पाया जाता है तो एक कम्पनी के लिए सर्टिफिकेट जारी करता है और ISO द्वारा एक प्रमाण कम्पनी को दे दिया जाता है इसके सर्टिफिकेट के माध्यम अपने वस्तुओ को कम्पनी बेझिझक बेच सकता है।

ISO full form in hindi

ISO का पूरा नाम होता है International Organization for Standardization जिसका हिंदी अर्थ अंतरराष्ट्रीय मानकीकरण संगठन होता है इसका काम होता है Companies के प्रॉडक्ट का जांच करना होता है।

ISO meaning in hindi

आईएसओ का हिंदी मतलब होता है अंतरराष्ट्रीय मानकीकरण संगठन ये एक स्वतंत्र गैर सरकारी कम्पनी है जिसके द्वारा कम्पनीओ के वस्तुओ को सुधारने और बेहतर से बेहतर बनाने का प्रयास किया जाता है।

ISO 9000-9001:2008-9001:2015 क्या है?

ISO की स्थापना 23 फरवरी 1947 में हुयी थी ये एक विश्व्यापी औधौगिक संगठन है इसके द्वारा ISO का पहला certificate सन 1979 में ISO-9000 में जारी किया गया था उस कम्पनी के पास एक सही और शुद्ध वस्तु बनाने का प्रमाण था।

ISO के द्वारा नियामो में जैसे जैसे बदलाव हुआ उसी प्रकार से ISO-9000 ISO-9001:2008 ISO-9001-2015 बना जैसे नियम बदलते गए उसी प्रकार से ISO द्वारा मिलने वाले सर्टिफिकेट कोड भी बदलते गये।

अब कोई कम्पनी अपने प्रोडक्ट का जांच करवाकर ISO से सर्टिफिकेट लेना चाहता है तो उस कम्पनी को ISO-9001:2015 के तहत प्रमाणित किया जाता है अभी भारत में लाखो कम्पनी ISO से सर्टिफाइड है।

ISO के कितने प्रकार होते है?

ISO क्या है ये तो समझ आ गया होगा अब बात करते है कि ISO Registration कितने प्रकार के होते है?

  • ISO 9001:2008 – Quality Management
  • ISO 9001:2015 – Quality Management System
  • ISO 14001:2015 – Environment Management System
  • ISO 37001 – Anti-bribery Management System
  • ISO 31000 – Risk Management
  • ISO 27001 – Information Security Management System
  • ISO 10002 – Complaint Management System
  • ISO 26000 – Social Responsibility
  • ISO 28000 – Security Management
  • ISO 22008 – Food Safety Management
  • ISO 639 – Language Code
  • ISO 4217 – Currency Code
  • ISO 3166 – Country Code
  • ISO 8601 – Data and time format
  • ISO 20121 – Sustainable Events

ISO Certificate के लिए फीस कितना लगता है?

जो अगर ISO सर्टिफिकेट के एप्लीकेशन फीस की बात करे तो ये आप के संगठन आपके कम्पनी के ऊपर निर्भर करता है कि आपके संगठन का आकार क्या है और उस संगठन में कितने लोग काम करते है ये सारी चीजों पर ISO certification agency द्वारा कैलकुलेट करके फीस लिया जाता है।

ISO के फायदे क्या है?

ISO Certification उस कम्पनी या उद्योग के लिये मत्वपूर्ण है जो प्रोडक्ट और सर्विस मार्किट में सेल्ल करती है इससे उस व्यसाय के लिये मार्केट में अच्छी क्षवि बनती है।

  • ISO Certificate से मार्किट में आपके व्यसाय की विशवासनियता बढ़ती है।
  • ISO सर्टिफिकेट से आपके वस्तुओ को शुद्धता प्रमाण मिलता है।
  • ISO सर्टिफिकेट से Industry और companies को बढ़ावा मिलता है।
  • इससे कम्पनी के वस्तुओ और लागत में भी सुधार होता है।
  • कार्य स्थल में सुधार और कर्मचारियों में उत्साह बढ़ता है।
  • अंतरराष्टरीय स्तर पर मान्यता प्राप्त और quality standerd certificate भी मिल जाता है।

निष्कर्ष Conclusion

मै उम्मीद करता हूँ कि आपको Iso क्या है-iso full form-iso meaning in hindi? इस पोस्ट से काफी हेल्प मिला होगा और आपको ISO से सम्बंधित जॉब करने में आसानी होगा जो अगर आपको इससे सम्बंधित कोई सवाल है तो आप कमेंट करके पूछ सकते है मै उसका जवाब आपको ज़रूर दूंगा तथा आप ऐसे पोस्ट पढ़ेंने में इंटरेस्ट रखते है तो आप हमारे फेसबुक और इंटस्टाग्राम के पेज को फॉलो करे और हर रोज नई नई जानकारी पाये हिंदी में. (धन्यवाद्)

6 thoughts on “Iso क्या है-iso full form-iso meaning in hindi?”

    • शिवानी जी
      आईएसओ के लिए कई इंस्टिट्यूट ट्रेनिंग करवाती है जिसमे 10,000 रूपये तक खर्चा आ सकता है

      Reply

Leave a Comment

error: Content is protected !!