Hindi Varnamala Chart : वर्णमाला स्वर और वजन

Hindi Varnamala, Hindi-Varnamala-Chart

हर एक भारतीय को हिंदी भाषा के बारे में थोड़ी बहुत जानकारी तो होती ही है। बहुत सारे देसी-विदेशी लोग भी हिंदी भाषा को सीखना पसंद करते हैं सीखना चाहते है। लेकिन उससे पहले किसी भी व्यक्ति को हिंदी सीखने के लिए Hindi Varnamala, Hindi Alphabet Varnamala, हिंदी वर्णमाला स्वर और वजन के बारे में जानकारी होनी चाहिए।

भारत में कई अलग-अलग रीजनल भाषाओं को बोला जाता है समझा जाता है। लेकिन भारत के राज्यभाषा की बात की जाए। तो वह हिंदी है। हिंदी एक ऐसा भाषा है। जो काफी पॉपुलर भी है। बहुत सारे लोग हिंदी समझते हैं। और बोलते हैं।

हिंदी भाषा सीखने के लिए वर्णमाला या हिंदी अक्षर काफी हेल्प करते हैं। इसलिए आपको सबसे पहले वर्णमाला को पढ़ना होगा। याद करना होगा। समझना होगा। फिर उसके बाद ही आप हिंदी बोलना समझ पाएंगे और हिंदी को पढ़ पाएंगे।

वर्तमान में भले ही इंग्लिश पर अधिक फोकस किया जाता हो। क्योंकि यह जमाने का कसूर है। और जमाने के हिसाब से अंग्रेजी काफी आगे होने के कारण जरूरत बन गई है। उसके मुकाबले हिंदी भाषा का ज्ञान कम लोगो को है। हिंदी को बहुत सारे लोग सीखना समझना पढ़ना चाहते हैं। लेकिन उन्हें समझ ही नहीं आता है। अगर आप हिंदी सीखना चाहते हैं। आपको सबसे पहले Hindi varnamala सीखना होगा।

Hindi varnamala – हिंदी वर्णमाला

हिंदी भाषा को पढ़ने के लिए आपको हिंदी के 52 वर्णाक्षर या वर्णमाला को याद करना होगा। और समझना होगा पहचानना होगा। की किस अक्षर से क्या होता है इसका मतलब क्या है। सभी अक्षरों को आपको एक-एक करके पहचानना होगा। और याद करना होगा तभी आप इंग्लिश भाषा को संपूर्ण तरीके से सीख पाएंगे।

हिंदी दिवस 14 सितंबर को हर वर्ष मनाया जाता है। हिंदी को भाषा को भारत में ही बोला और समझा जाता है। बल्कि विदेशों में भी बहुत सारे लोग हिंदी समझते हैं बोलते हैं। और समझना सीखना भी पसंद करते हैं। हिंदी में 52 अक्षर होते हैं। लेकिन बोलचाल में कई बार 49 अक्षर ही आते हैं।

लेख से हम आपको उन 52 अक्षरों से रूबरू करवाएंगे। और साथ-साथ अक्षरों का मतलब क्या होता है। उस पर भी हम आपको जानकारी देते हुए आगे बढ़ेंगे। जिससे आपको हिंदी वर्णमाला आसानी से समझ में आए और आप सीख पाए।

हिंदी भाषा में लिखी जाने वाली पहली बुक का नाम जान गिलक्रिस्ट है। इस बुक को 1776 में प्रकाशित किया गया था। जो हिंदी में लिखी पहली पुस्तक थी। जो हिंदी में लिखी गई थी। पुस्तक का शीर्षक था “हिंदुस्तानी भाषा का व्याकरण” तभी से हिंदी का क्षेत्र धीरे धीरे बढ़ता गया। और आज हिंदी बहुत बड़े स्तर पर बोली समझी जाती है।

हिंदी वर्णमाला में स्वर और व्यंजन  के कुल 49 अक्षर होते हैं। इसमें संयुक्त व्यंजन भी होते हैं। उन सभी अक्षरों से हम आगे आपको अवगत कराऊंगा।

हिंदी वर्णमाला स्वर

स्वरअ, आ, इ, ई, उ, ऊ, ऋ, ए, ऐ, ओ, औ,
अनुस्वारअं
विसर्गअ:
व्यंजनक, ख, ग, घ, ङ, च, छ, ज, झ, ञ, ट, ठ, ड, ढ, ण, त, थ, द, ध, न, प, फ, ब, भ, म, य, र, ल, व, श, ष, स, ह,
संयुक्त व्यंजनक्ष, त्र, ज्ञ, श्र,

Hindi varnamala chart vowel

क्र०वर्णाक्षरवर्णमाला
1अनार
2आम
3इमली
4ईख
5उल्लू
6ऊन
7ऋषि
8एड़ी
9ऐनक
10ओखली
11औरत
12अंअंगूर
13अ:.. खाली

Hindi varnamala chart consonant

क्र०वर्णाक्षरवर्णमाला
1कबूतर
2खरगोश
3गमला
4घडी
5.. खाली
6चम्मच
7छतरी
8जहाज
9झंडा
10.. खाली
11टमाटर
12ठठेरा
13डमरू
14ढक्कन
15.. खाली
16तरबूज
17थर्मस
18दवात
19धनुष
20नल
21पतग
22फल
23बकरी
24भालू
25मछली
26यज्ञ
27रत
28लट्टू
29वन
30शलगम
31पष्टकोण
32सांप
33हल
34क्षक्षत्रिये
35त्रत्रिशूल
36ज्ञज्ञान

हिंदी में मात्रा कितनी होती है?

क्र०स्वरमात्रा
1 अ  …
2 आ  ा 
3 इ  ि 
4 ई  ी
5 उ  ु
6 ऊ  ू
7 ऋ  ृ
8 ए  े
9 ऐ  ैै
10 ओ  ो
11 औ ौ

हिंदी भाषा कहां कहां बोली जाती है?

हिंदी भाषा को वर्तमान में कई अलग-अलग देश में बोला जाता है। लेकिन सबसे अधिक भारत में बोला जाता है। उसके अलावा पाकिस्तान, नेपाल, सिंगापुर, श्रीलंका, साउथ अफ्रीका, जैसे देश में भी हिंदी को बोला और समझा जाता हैं। 

वैसे जहा जहा इंडियन है वहा वहा हिंदी भाषा को बोला और समझा जाता है। लेकिन आपको यह मालूम होना चाहिए। कि हिंदी भाषा को पूरी दुनिया में 600 Million लोगों के द्वारा बोला समझा जाता है। अब आप इससे अंदाजा लगा सकते हैं। कि हिंदी भाषा कितना पॉपुलर है।

हिंदी वर्णमाला में स्वर और व्यंजन कितने होते हैं?

  • हिंदी वर्णमाला में 12 स्वर होते है।
  • हिंदी वर्णमाला में 36 व्यंजन होते है।

आशा करते हैं लेख में दी गयी जानकारी Hindi Varnamala Chartहिंदी वर्णमाला स्वर और वजन, उम्मीद है लेख से आपको हेल्प मिला होगा। और आपको हिंदी वर्णमाला के बारे में जानकारी मिला होगा ऐसी जानकारी के लिए हमारे ब्लॉग पर और आर्टिकल पहले पब्लिश है। उन्हें भी पढ़ सकते है और जानकारी ले सकते है।

इस लेख से जुड़ा किसी भी जानकारी के लिए आप कमेंट भी कर सकते हैं। आपके कमेंट में पूछे गए प्रश्न का उत्तर अवश्य दिया जाएगा। ऐसी ही जानकारी के लिए हमसे संपर्क भी कर सकते हैं। इस लेख से हेल्प मिला हो तो इसे आगे भी शेयर करें ताकि और लोगो को भी लेख से हेल्प मिल सके।

Leave a Comment

error: Content is protected !!