ग्रामीण डॉक्टर कैसे बने – ग्रामीण डॉक्टर कोर्स

मेडिकल क्षेत्र में बहुत सारे स्टूडेंट अपना करियर बनाना चाहते हैं। इसमें कई स्टूडेंट डॉक्टर बनकर अपना कैरियर बनाना चाहते हैं। कई स्टूडेंट पैरामेडिकल में कई डिप्लोमा कोर्स और सर्टिफिकेट कोर्स पूरा करके मेडिकल क्षेत्र में काम करते हैं। और अपना कैरियर बनाते हैं। लेकिन ग्रामीण  डॉक्टर कैसे बने, और ग्रामीण डॉक्टर के लिए कोर्स कौन सा करें, इस पर हम चर्चा करेंगे।

वर्तमान समय में अच्छे डॉक्टर की जरूरत है। चाहे वह शहर या ग्रामीण क्षेत्र हो। अगर आप भी डॉक्टर बनना चाहते हैं। और खोज रहे है। कि ग्रामीण क्षेत्रों के लिए डॉक्टर बनने के लिए कौन सा कोर्स करना चाहिए। इसी पर हम विस्तार से चर्चा करेंगे। और आपको जानकारी देंगे।

अच्छे डॉक्टर बनने के लिए कई बड़ी डिग्री हासिल करनी पड़ती है। जैसे एमबीबीएस, बीडीएस, बीयूएमएस, आयुष्मान प्रोग्राम, ऐसे कई डिग्री है। जिसे हासिल करके स्टूडेंट मेडिकल क्षेत्र में अपना कैरियर बना सकते हैं। और डॉक्टर बन सकते हैं। लेकिन कोर्स में प्रवेश लेने के लिए सबसे पहले एंट्रेंस एग्जाम को क्वालीफाई करना होता है।

डॉक्टर की डिग्री हासिल करने के लिए और डॉक्टर बनने के लिए सबसे पहले स्टूडेंट को नीट परीक्षा उत्तीर्ण करना होगा। उसके बाद ही एमबीबीएस कोर्स में प्रवेश मिल पाएगा। और दूसरे डिग्रियों के लिए कोर्स में प्रवेश मिल पाएगा। डॉक्टर बनने के लिए सबसे बड़ी डिग्री एमबीबीएस होती है। और सबसे छोटी डिग्री बीएसएमएस है। यह डिग्री प्राप्त करके आप डॉक्टर बन सकते हैं।

ग्रामीण डॉक्टर कैसे बने – Gramin Doctor Kaise Bane?

ग्रामीण डॉक्टर कैसे बने, gramin-doctor-kaise-bane

अगर आप एक अच्छे डॉक्टर बनना चाहते हैं। तो आप के लिए कई कोर्स मौजूद है। जिसे पूरा करके आप डॉक्टर बन सकते हैं। जैसे बीएसएमएस, बीयूएमएस, बीएएमएस, इन कोर्सो को पूरा करके और इंटर्नशिप पूरा करके डॉक्टर बन सकते हैं। कोर्स पूरा करके आप शहरी क्षेत्र में और ग्रामीण दोनों क्षेत्रों में आप इलाज कर सकते हैं।

ग्रामीण क्षेत्र में छोटी-मोटी बीमारियों के लिए कई डिप्लोमा कोर्सेज ग्रेजुएशन कोर्सेज मौजूद है। जिसे पूरा करके आप आसानी से ग्रामीण क्षेत्र के डॉक्टर बन सकते हैं। जैसे- CMS Ed, DRHC, CCH, DHP, BMLT, DMLT, B.sc Nursing, M.sc Nursing, इन कोर्सो को पूरा करके भी आप ग्रामीण के मेडिकल क्षेत्र में काम कर सकते हैं।

मेडिकल क्षेत्र में कैरियर बनाने के लिए कोई जरूरी नहीं है। एमबीबीएस की डिग्री ही हासिल करें। दूसरे डिग्री और डिप्लोमा कोर्सेज हासिल करके भी मेडिकल क्षेत्र में अपना करियर बनाया जा सकता है। इसके लिए ऊपर बताये गए कोर्सो में से कोई एक कोर्स पूरा करके ग्रामीण क्षेत्र के डॉक्टर बन सकते हैं।

अगर आप भी सीनियर डॉक्टर बनना चाहते हैं। और डॉक्टर क्षेत्र की सबसे बड़ी डिग्री हासिल करना चाहते हैं। इसके लिए सबसे पहले नीट की तैयारी करनी होगी। नीट क्वालीफाई करके एमबीबीएस के लिए मेडिकल कॉलेज में प्रवेश लेकर एमबीबीएस की डिग्री हासिल कर सकते हैं। और डॉक्टर बन सकते हैं।

दूसरे आर्टिकल-

नीट के बिना 12 वीं के बाद मेडिकल कोर्स की लिस्टटॉप 25 मेडिकल लाइन कोर्स लिस्ट
डॉक्टर डिग्री नाम लिस्ट – डॉक्टर और बीमारी की लिस्टस्त्री रोग विशेषज्ञ डॉक्टर कैसे बने?

डॉक्टर कौन लिख सकता है?

नाम के आगे डॉक्टर वही लिख सकता हैं। जो मेडिकल क्षेत्र में एमडी डिग्री हासिल कर लेता हैं। जैसे एमबीबीएस, बीएएमएस, बीएचएमएस, और बीयूएमएस, डिग्री हासिल करने के बाद मेडिकल क्षेत्र के स्टूडेंट अपने नाम के आगे डॉक्टर लगा सकते हैं।

लेकिन साथ ही पीएचडी स्टूडेंट पीएचडी की डिग्री हासिल करके अपने नाम के आगे डॉक्टर लगा सकते हैं। पीएचडी एक डॉक्टरेट डिग्री है। यह डिग्री हासिल करके कोई भी स्टूडेंट अपने नाम के आगे डॉक्टर लगा सकता है। क्योंकि पीएचडी कोर्स को मास्टर डिग्री के बाद पूरा किया जाता है। पीएचडी पूरा करने के बाद कोई भी अपने नाम के आगे डॉक्टर लगा सकता है।

नाम के आगे डॉक्टर लिखने के लिए जरूरी नहीं है। कि आप मेडिकल क्षेत्र में एमबीबीएस की डिग्री हासिल करें। या बीएएमएस की डिग्री हासिल करे। BUMS की डिग्री हासिल करें। अगर आप पीएचडी कर लेते हैं तो भी आप अपने नाम के आगे डॉक्टर लगा सकते हैं।

डॉक्टर डिप्लोमा कोर्स

मेडिकल क्षेत्र में कैरियर बनाने के लिए कोई जरूरी नहीं है। कि डॉक्टर की डिग्री हासिल करें। डिप्लोमा कोर्स भी मौजूद है। जिसे पूरा करके अलग अलग क्षेत्र में कैरियर बनाया जा सकता है। जैसे- डी फार्मा अगर आप फार्मेसी में अपना कैरियर बनाना चाहते हैं। तो भी डिप्लोमा कोर्स पूरा करके मेडिकल क्षेत्र में करियर बना सकते हैं।

अगर आप मेडिकल क्षेत्र में या किसी अन्य क्षेत्र में कैरियर बनाना चाहते हैं। तो उसके लिए भी कई अलग-अलग फोर्सेस मौजूद है। जैसे- डीएमएलटी, DRHC, DHP, ऐसे कई कोर्स मौजूद है। जिसे 12वीं के बाद पूरा कर सकते हैं। डिप्लोमा कोर्स को 2 से 3 साल के भीतर पूरा करके मेडिकल क्षेत्र में करियर बनाया जा सकता हैं।

मेडिकल क्षेत्र में कैरियर बनाने के लिए कई अलग-अलग डिप्लोमा कोर्स मौजूद है। उसमें से आप कोई एक कोर्स करके अपना कैरियर मेडिकल क्षेत्र में बना सकते हैं।

ग्रामीण डॉक्टर बनने के लिए योग्यता

अगर आप ग्रामीण क्षेत्र के डॉक्टर बनना चाहते हैं। और कोई मेडिकल क्षेत्र से जुड़ा हुआ कोर्स करना चाहते हैं। तो इसके लिए सबसे पहले आपको 10वीं और 12वीं पास करना होगा, अगर आप मेडिकल क्षेत्र में कोई भी कोर्स करना चाहते हैं। तो आपको 12वी साइंस साइड से ही पास करना होगा। जिसमें फिजिक्स, केमिस्ट्री, और बायोलॉजी, होना जरूरी है।

अगर आप साइंस साइट से 12वीं पास कर चुके हैं। तो आप मेडिकल क्षेत्र के कोर्स पूरा कर सकते हैं। और अपना कैरियर मेडिकल क्षेत्र में बना सकते है। मेडिकल क्षेत्र एक ऐसा क्षेत्र है। जिसमें कोई लिमिटेशन नहीं है। मेडिकल क्षेत्र बहुत बड़ा है काफी स्कोप है। इसमें कोई भी क्षेत्र चुनकर करियर बनाया जा सकता हैं।

मेडिकल में कैरियर बनाने के लिए सर्टिफिकेट कोर्स, डिप्लोमा कोर्स, ग्रेजुएशन कोर्स, और पोस्ट ग्रेजुएशन कोर्स, भी मौजूद है। जिसे पूरा करके मेडिकल क्षेत्र में अपना कैरियर बना सकते हैं। लेकिन कोई जरूरी नहीं है। बड़ी डिग्री हासिल करे। आप डिप्लोमा कोर्स या सर्टिफिकेट कोर्स पूरा करके भी मेडिकल क्षेत्र में कैरियर बना सकते हैं।

सारांश

उम्मीद करते हैं। इस लेख में बताई गई जानकारी से आपको हेल्प मिला होगा। इस लेख के माध्यम से मैंने आपको ग्रामीण डॉक्टर कैसे बने, उस पर विस्तार से चर्चा करते हुए जानकारी दिया है। ग्रामीण क्षेत्र के डॉक्टर बनने के लिए कौन सा कोर्स करना चाहिए। उसके लिए योग्यता क्या होनी चाहिए। उस पर भी विस्तार से चर्चा किया गया है।

ऐसी ही जानकारी के लिए हमारे ब्लॉग पर ऐसे कई आर्टिकल पब्लिश है। जिसे आप पढ़ सकते हैं। और अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। मेडिकल क्षेत्र से जुड़े डिप्लोमा कोर्स सर्टिफिकेट कोर्स ग्रेजुएशन कोर्स और एंट्रेंस एग्जाम से जुड़े कई आर्टिकल पब्लिश किये गए है। उसे पढ़कर अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते है।

Leave a Comment

error: Content is protected !!