गवर्नमेंट टीचर बनने के लिए क्या करें?

बहुत सारे स्टूडेंट के प्राइवेट स्कूलो और सरकारी स्कूलो में टीचर बनने के सपने होते है। लेकिन सपने पूरा करने के लिए कई स्टूडेंट को यह जानकारी नहीं होती है। कि गवर्नमेंट टीचर बनने के लिए क्या करें? शिक्षक बनने के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए? टीचर बनने के लिए उम्र कितनी होनी चाहिए? इन सभी प्रश्नो के उत्तर देंगे। लेख को अंतिम तक पढ़े।

सरकारी स्कूलो में टीचर बनने के लिए कौन-कौन से कोर्स करने होंगे। इस विषय पर विस्तृत कई स्टूडेंट को जानकारी नहीं होती है। यानि स्टूडेंट ऐसे कई निर्णय ले लेते है। जिससे उनके शिक्षक बनने में बधाये आने लगती है। जिससे वह शिक्षक पद पर नियुक्त नहीं हो पाते है।

सरकारी टीचरो को तीन भागो में बाटा गया है। आपको कौन सा शिक्षक बनना है। यह आपको तय करना होगा। पहले भाग के टीचर की बात करे तो 1 से 5 कक्षा तक पढ़ाने वाले टीचर आते है। यह PRT प्राइमरी टीचर होते है। दूसरा PGT पोस्ट ग्रेजुएट टीचर इसमें टीचर 11 वी और 12 वी के बच्चो को शिक्षित कर सकते है।

तीसरा TGT ट्रेंड ग्रेजुएट टीचर अगर आप 6वी से 10वी तक के बच्चो को बढ़ाना चाहते है। यानि टीजीटी टीचर बनने के लिए आपको टीजीटी एग्जाम क्वालीफाई करना होगा। इसके लिए पहले ग्रेजुएशन डिग्री के अलावा बीएड डिग्री हासिल करनी होगी।

गवर्नमेंट टीचर बनने के लिए क्या करें?

government-teacher-banne-ke-liye-kya-kare

जैसा की आपने जाना सरकारी टीचरो को तीन भागो में बाटा गया है। पहला प्राइमरी टीचर दूसरा ट्रेंड ग्रेजुएट टीचर और तीसरा पोस्ट ग्रेजुएट टीचर इसमें से आपको किसी एक को चुनना होगा। उसी हिसाब से आपको योग्यता पूरी करनी होगी और इल्म हासिल करना होगा। यह स्टूडेंट को तय करना होगा। कि कौन सा टीचर भविष्य में बनना चाहते है।

प्राइमरी टीचर बनने के लिए स्टूडेंट को सबसे पहले 12वी पास करना है। उसके बाद ग्रेजुएशन किसी भी यूनिवर्सिटी से कम्पलीट कर लेना है। ग्रेजुएशन के बाद आप बीएड या बीटीसी कोर्स कर सकते है। साथ ही नर्सरी ट्रेनिंग कोर्स की डिग्री प्राप्त करनी होगी। सरकारी टीचर के लिए CTET/TET भी क्वालीफाई करना होगा। फिर वह कक्षा 1 से 5 तक के स्टूडेंट को पढ़ा सकते है।

ट्रेंड ग्रेजुएट टीचर बनने के लिए स्टूडेंट को पहले किसी भी सब्जेक्ट से 12वी पास करना होगा। फिर किसी मान्यता प्राप्त विद्यालय या विश्वविद्यालय से ग्रेजुएशन पूरा करना है। उसके बीएड कोर्स करना है। उसके बाद CTET या TET एग्जाम क्वालीफाई करना होगा। फिर यह कैंडिडेट सरकारी और प्राइवेट स्कूलो में ट्रेंड ग्रेजुएट टीचर पद के लिए काबिल हो जाते है। यह टीचर कक्षा 6 से 10वी तक के बच्चो को तालीम दे सकते है।

पोस्ट ग्रेजुएट टीचर बनने के लिए स्टूडेंट को पहले 12वी पास करना है। उसके बाद ग्रेजुएशन डिग्री किसी भी यूनिवर्सिटी या कॉलेज से प्राप्त करना है उसके बाद पोस्ट ग्रेजुएशन और बीएड कोर्स कम्पलीट करना होगा। फिर पोस्ट ग्रेजुएशन टीचर 11वी और 12वी के बच्चो को शिक्षित कर सकते है।

इस तरह आप गवर्नमेंट टीचर बनने के लिए पढाई कर सकते है। योग्यता हासिल करने के साथ साथ आप इल्म भी हासिल करके टीचर बन सकते है। और बच्चो को सिक्षिक कर सकते है।

और पढ़े..

शिक्षक बनने के लिए योग्यता

  • किसी भी सब्जेक्ट से बारहवीं क्वालीफाई करे।
  • ग्रेजुएशन डिग्री किसी भी यूनिवर्सिटी से प्राप्त करे।
  • पोस्ट ग्रेजुएशन डिग्री प्राप्त करे।
  • बीएड या बीटीसी कोर्स कर कम्पलीट करे।
  • CTET या TET एग्जाम को क्वालीफाई करे।
  • PRT, TGT, PGT, टीचर के लिए आवेदन कर सकते है।

टीचर बनने के लिए उम्र कितनी होनी चाहिए?

शिक्षक बनने वाले स्टूडेंट के मन में यह प्रश्न अवश्य होगा। क्योकि टीचर की भर्ती होते होते काफी समय लग जाता है। पहले कई योग्यता हासिल करने में अधिक ऐज हो जाती है। उसके बाद भर्ती प्रकिर्या में भी काफी समय लगता है। इसलिए कई कैंडिडेट की चिंताए इस लिए बढ़ जाती है। की उनकी काफी अधिक हो चुकी होती है।

तो आपको बता दूँ कम से कम यानि न्यूनतम आयु कैंडिडेट की 18 वर्ष होनी चाहिए। अधिकतम आयु 35 वर्ष तक या इससे कम होनी चाहिए। वही आवेदक सरकारी टीचर पद के लिए आवेदन कर सकते है। इससे अधिक या इससे कम होने पर टीचर पद के लिए आवेदन नहीं कर पाएंगे।

टीचर की नौकरी कैसे प्राप्त करें?

टीचर की नौकरी प्राप्त करने के लिए टीचर पद के लिए योग होना पड़ेगा। कई शैक्षणिक योग्ताएं स्टूडेंट को हासिल करना होगा। जिसकी शुरुआत सबसे पहले स्टूडेंट को मन चाहे सब्जेक्ट से 12वी पास करना होगा। जिस भी सब्जेक्ट का टीचर बनना है। उस सब्जेक्ट की पढाई 12वी से शुरू करदे।

12वी पास करने के बाद स्टूडेंट को ग्रेजुएशन में प्रवेश लेना होगा। ग्रेजुएशन 3 वर्ष का कोर्स होता है ग्रेजुएशन भी स्टूडेंट अपने मन चाहे कोर्स से पूरा कर सकता है। उसके पश्चात् स्टूडेंट को पोस्ट ग्रेजुएशन या बीएड या बीटीसी कोर्स करना होगा।

यह कोर्स पूरा करने के बाद स्टूडेंट को CTET / TET एंट्रेंस एग्जाम क्वालीफाई करना होगा। इसके बाद स्टूडेंट सरकारी टीचर बनने के काबिल हो जाता है। फिर स्टूडेंट सरकारी टीचर के लिए आयी वैकेंसी में आवेदन कर सकता है और प्राइवेट स्कूल में नौकरी के लिए भी अप्लाई कर सकते है।

टीचर बनने के लिए कौन सा सब्जेक्ट लेना पड़ता है?

टीचर स्टूडेंट अपने मन चाहे सब्जेक्ट से बन सकते है। जिस भी सब्जेक्ट का स्टूडेंट टीचर बनना चाहते है। उस सब्जेक्ट को स्टूडेंट को पढ़ना होगा। जिस भी सब्जेक्ट में स्टूडेंट को दिलचस्पी है अपने दिलचस्पी के अनुसार सब्जेक्ट चुनकर पढाई कर सकता है। और टीचर बन सकता है।

इन सब्जेक्ट के अधिकतर टीचर आपको देखने को मिल जायेंगे। आप इसमें कोई भी सब्जेक्ट चुनकर टीचर बन सकते है।

  • हिंदी
  • अंग्रेजी
  • संस्कृत
  • उर्दू
  • साइंस
  • केमिस्ट्री
  • होम साइंस
  • एजुकेशन
  • रीज़निंग
  • इतिहास
  • भूगोल
  • राजनीति विज्ञान
  • हिंदी साहित्य
  • संस्कृत साहित्य
  • अंग्रेजी साहित्य
  • दर्शनशास्त्र
  • मनोविज्ञान
  • साइकोलोजी
  • समाजशास्त्र
  • कला स्वास्थ्य
  • शारीरिक शिक्षा
  • ड्राइंग या पेंटिंग
  • मनोविज्ञान
  • लोक प्रशासन
  • अन्य सब्जेक्ट

प्राइमरी टीचर कोर्स

प्राइमरी टीचर बनने के लिए भी कई शैक्षणिक योग्यता हासिल करनी होती है। जैसा की मैंने ऊपर लेख में प्राइमरी टीचर बनने से जुडी जानकारी आपको देने का प्रयास किया है। जिसमे बताया गया है पहले ग्रदुएशन डिग्री प्राप्त करे बीएड कोर्स करे फिर टेट सीटेट एग्जाम क्वालीफाई करके स्टूडेंट प्राइमरी टीचर बन सकता है।

आशा करते है। लेख में मेंशन इनफार्मेशन से आपको काफी हेल्प मिला होगा। इसमें मैंने आपको बताया है। कि गवर्नमेंट टीचर बनने के लिए क्या करें? और सरकारी टीचर से जुडी जानकारी इस लेख से जोड़ी गयी है। ऐसी ही अन्य जानकारी के लिए हमारे ब्लॉग पर पब्लिश दूसरे लेख पढ़ सकते है। पहले से कई आर्टिकल पब्लिश किये जा चुके है। उसे भी देखे।

यदि इस लेख से जुड़ा आपका किसी भी प्रकार का कोई प्रश्न है। जिसका आप उत्तर जानना चाहते है। उसे आप कमेंट करके पूछ सकते है। यदि इस लेख से आपको हेल्प मिला हो। तो कमेंट करके ज़रूर बताये। इस लेख हेल्प मिला हो तो इसे शेयर भी कर

Leave a Comment

error: Content is protected !!