Freelancing kya hai? – फ्रीलांसर इन हिंदी।

इस आधुनिक युग में इंटरनेट पर तरह तरह की चीजे दिखाई और सुनाई पड़ती है हर रोज नयी नयी तकनिकी का इस्तेमाल बढ़ रहा है यही इंटरनेट पर कई लोग सर्च करते है कि Freelancing kya hai. फ्रीलांसर इन हिंदी क्या होता है इसी विषय पर लेख में विस्तृत चर्चा करेंगे और जानकारी प्राप्त करेंगे।

इंटरनेट से पैसे कमाने के बहुत तरीके है लेकिन अधिकांश तरीको में काफी समय लगता है वही फ्रीलांसर एक ऐसा कार्य है जहा से इंस्टेंट ऑनलाइन पैसे कमाये जा सकते है फ्रीलांसिंग वर्क करके बहुत सारे लोग अच्छे पैसे भी कमाते है ये कैसे इसकी बात आगे के लेख में करेंगे।

हमारे देश में दिन प्रतिदिन बेरोजगारी बढ़ती जा रही है जिस कारण से हर साल लाखो छात्र पढाई पूरी करके बेरोजगार हो रहे है फिर इंटरनेट पर आकर पैसे कमाने के तरीके खोजते है और इंटरनेट पर बहुत सारी फेक वेबसाइट या फेक प्लान में फस जाते है पैसे कमाने के चक्कर में क्योकि वह कई बड़े सपने दिखाए जाते है और हकीकत में वो फ्रॉड होते है।

यदि आपके अंडर किसी प्रकार की कोई टैलेंट या स्किल है जिसका का इस्तेमाल करके पैसे बनाना चाहते है तो यह जानकारी आपके लिए है इस बारे में अधिक जानकारी के लिए इस लेख को अंत तक पढ़े ताकि विस्तार से आपको इस अवसर के बारे में जानकारी मिल जाये।

Freelancing kya hai?

Freelancing kya hai?

पहले सझते है फ्रीलांसिंग क्या है. इसे आप इस प्रकार से समझे आपके अंडर कोई टैलेंट है या कोई कार्य करना पूर्णता जानते है जैसे आप फोटो एडिट करना जानते है किसी अन्य को एक अच्छा फोटो एडिट करवाना है वो खुद नहीं कर सकता है क्योकि उसे एडिट करना नहीं आता है आप एडिट कर सकते है उस एडिटिंग के बदले में आपको वह पैसा देगा इस बीच के प्रोसेस को ही फ्रीलांसिंग कहते है।

यदि आपमें कोई ऐसा कौसल (Skill) है जिसे बेचकर आप पैसे कमाना है जैसे फोटोग्राफी, विडिओ एडिंटिंग, फोटो एडिंटिंग, वेब डिजाइनिंग, सॉफ्टवेयर डेवलपिंग, राइटिंग, म्यूजिक, कंप्यूटर एक्सपर्ट, एसईओ, लिंक बिल्डिंग, वेबसाइट मेकिंग, इत्यादि कार्य में से किसी दूसरे के लिए कार्य करना और उस मेहनताने के पैसे प्राप्त करने को ही फ्रीलांसिंग कहते है।

दूसरे शब्दों में freelancing को इस प्रकार समझे दुसरो के कामो करके दो और उनसे उसके बदले में पैसे लो यह कार्य घर बैठे किया जा सकता है कही आने जाने की ज़रूरत नहीं है।

फ्रीलांसर इन हिंदी।

प्रश्न आता है की फ्रीलांसर किसे कहते है, किसी दूसरे के कामो को पूरा करना और उसके बदले में पैसे लेना इसे फ्रीलांसिंग कहते है और इस कार्य को पूरा करके देने वाले व्यक्ति को फ्रीलांसर कहते है एक स्थान पर बैठकर किसी दूसरे के वर्क को पूरा करने वाले पर्सन को फ्रीलांसर कहते है।

फ्रीलांसर कई अनेक अनेक वेबसाइट का यूज़ करते है उस वेबसाइट पर प्रोफाइल बनाते है बायो में वर्क और वर्क एक्सपीरियंस के बारे विस्तृत जानकारी देते है ताकि फ्रीलांसर से कस्टमर आसानी से बायो को देखकर इंगेज हो और कार्य के लिए सौदा करे।

इंटरनेट पर बहुत सारी थर्ड पार्टी फ्रीलांसिंग वेबसाइट है जो दो पार्टी को मिलती है पहला जिसे कार्य करवाना है और दूसरा जिसे कार्य करना है यहाँ से अपनी स्किल को बताकर डील किया जा सकता है।

फ्रीलांसिंग वेबसाइट लिस्ट।

प्रश्न है की फ्रीलांसिंग वेबसाइट क्या है. एक ऐसे प्लेटफार्म की आवश्यकता होती है जहा से सौदा किया जा सके चाहे वो सोशल मीडिया प्लेटफार्म हो या कोई ट्रस्टेड वेबसाइट हो जहा पर दो पक्षों के बीच संतुष्टि से सौदा किया जा सके वैसे इंटरनेट पर बहुत सारी Freelancing Website in hindi. और अंग्रेजी में है आइये जानते है।

Freelancing website list in hindi.

  1. Upwork
  2. Fiverr
  3. Freelancer.com
  4. Toptal
  5. Guru.com
  6. Peopleperhour
  7. Aquent
  8. EnvatoStudio
  9. GetAcoder
  10. IFreelance
  11. Demandmedia
  12. Simplehired
  13. Nexxt
  14. Hireable
  15. Taskrebbits
  16. 99Designs
  17. College Recruiter
  18. Paperell
  19. Krop
  20. Linkedin Profinder

इन सारी वेबसाइट के जरिये अपने स्किल के बारे बता सकते है और उसे बेचकर पैसे कमा सकते है इसके अतिरिक्त भी कई वेबसाइट मौजूद है जहा पर प्रोफाइल बनाकर ग्राहक इंगेज कर सकते है।

इन फ्रीलांसिंग साइट पर प्रोफाइल बनाने के बाद आपको Gig Create करना है और Buyer अपने वर्क के हिसाब से seller यानि उस पर्सन को खोजेगा जो उसके कार्य को पूरा कर सकता है सर्च करके buyer उस तक पहुंच जायेगा फिर buyer और seller के बीच इंटरैक्ट होगा फिर वर्क का डील हो जायेगा उसे पूरा करके देना है फिर buyer कार्य को देखकर आपके अकाउंट में पैसे क्रेडिट कर देगा।

फ्रीलांसर के लिए ज़रूरी बाते।

फ्रीलांसिंग वेबसाइट में प्रोफाइल बनाते समय अपना नाम, ईमेल आईडी, मोबाइल नंबर, स्किल, और वर्क एक्सप्रिएंस, बायो में ज़रूर मेंशन करे।

वही स्किल चुने या वही वर्क के लिए Gig बनाये जिस वर्क को आप करना जानते है जिसे किसी क्लाइंट के द्वारा दिए गए वर्क को आसानी आप पूरा कर सके।

प्रोफाइल में अपना फोटो कांटेक्ट डिटेल्स ज़रूर डाले।

यदि आपके पास कोई वर्क एक्सपीरियंस लेटर है वो किसी भी संस्था का हो उसे भी प्रोफाइल में ऐड करे ताकि आप पर क्लाइंट आसानी से विश्वास कर ले।

शुरुआती दौर में आपको कम पैसे में कार्य करना है यानि कम से कम पैसो का गिग लगाए ताकि ज्यादा से ज्यादा वर्क आपको मिले।

एक वर्ष का अनुभव हो जाने पर आपको अच्छे पैसे मिलेंगे क्योकि आपको स्टार्टिंग में अपनी प्रोफाइल को ट्रस्टफूल बनाने की ज़रुरत होती है।

क्लाइंट के साथ अच्छे से व्यवहार करना है उसे विश्वास दिलाना है और उसके कार्य को सही ढंग से पूरा करके देना है जिससे आपका काम बढ़ेंगे।

और पढ़े.

सारांश

मैं आशा करता हूँ की आपको इस लेख में दी गयी जानकारी Freelancing kya hai? और फ्रीलांसर इन हिंदी क्या होता है. पढ़कर अच्छा लगा होगा और पसंद आया होगा यदि इस आर्टिकल से सम्बंधित कोई प्रश्न है उसका उत्तर जानना चाहते है उसे कमेंट बॉक्स में डाल सकते है उसका उत्तर आपको मिल जायेगा।

इस आर्टिकल में आपके द्वारा खोजा जा रहा प्रश्न मिल गया हो और इससे सहायता मिला हो तो इसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर शेयर करना न भूले ताकि यह यूज़फूल जानकारी और लोग तक पहुंच सके।

यदि इस ब्लॉग से जुडी कोई जानकारी या सुझाव मुझे देना चाहते है तो आप हमारे ब्लॉग के कांटेक्ट पेज पर जाकर अपना मैसेज या सुझाव टाइप करे और भेज दे उसके लिए मैं आपका आभारी रहूँगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!