फैशन डिजाइनिंग क्या है और कैसे बने, फीस, योग्यता, कॉलेज, सैलरी

फैशन डिजाइनिंग कोर्स का वर्तमान में काफी क्रेज है। बहुत सारे स्टूडेंट फैशन डिजाइनिंग कोर्स में दिलचस्पी लेते है। क्या आप भी फैशन कोर्स करना चाहते है। और कोर्स से जुडी जानकारी जानना चाहते है। कि फैशन डिजाइनिंग क्या है, फैशन डिजाइनिंग कोर्स कैसे करे, और फीस, योग्यता, कॉलेज, सैलरी, आदि पर भी चर्चा करेंगे।

यदि आप (स्टूडेंट) सबसे अलग क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहता है। तो स्टूडेंट फैशन डिजाइनिंग कोर्स चुन सकते है फैशन डिजाइनिंग कोर्स काफी लोगप्रिये है। इस कोर्स में बड़ी सांख्या में स्टूडेंट दिलचस्पी ले रहे है। फैशन डिजाइनिंग में डिप्लोमा और डिग्री कोर्स प्राप्त कर सकते है।

फैशन डिजाइनिंग कोर्स करने के बाद स्टूडेंट को बेहतरीन ढेरो करियर विकल्प देखने को मिल जाते है। जिसमे स्टूडेंट अपने दिलचस्पी के मुताबिक अपने लिए अवसर खोज सकते है। फैशन डिजाइनिंग का क्षेत्र काफी विस्तृत है। जिसमे छात्र को करियर विकल्प चुनने का काफी अच्छा अवसर मिल जाता है।

फैशन डिजाइनिंग क्या है?

fashion-designing-course-kya-hai

Fashion Designing का क्षेत्र कपड़ो तक सिमित नहीं है बल्कि फैशन डिजाइनिंग में ज्वेलरी, शूज, क्लोथिंग, बैग्स, मैचिंग, आदि भी आता है। इन क्षेत्र में फैशन डिज़ाइनर को कार्य करना होता है। इस क्षेत्र में नई डिज़ाइन पर खोज करना, डिज़ाइन को खूबसूरत बनाना, मॉडर्न ज़माने के हिसाब डिज़ाइन को तैयार करना, के अलावा फैशन डिज़ाइनर का कार्य होता है।

अच्छे से अच्छे डिज़ाइन को मार्किट में प्रस्तुत करने का कार्य एक फैशन डिज़ाइनर का ही होता है। जिससे लोगो को अच्छे पहनावे मिल सके और लोगो की सुंदरता निखरे। इसमें कई चीजे शामिल होती है। उस पर फैशन डिज़ाइनर को कार्य करना होता है।

फैशन डिजाइनिंग कोर्स क्या है?

फैशन डिज़ाइनर बनने के लिए स्टूडेंट को पढाई करनी होती है। फैशन डिजाइनिंग में शिक्षा प्राप्त करने के लिए स्टूडेंट के पास कई विकल्प है। स्टूडेंट 10वी के बाद फैशन डिजाइनिंग में डिप्लोमा कोर्स कर सकते है। फैशन डिजाइनिंग में स्टूडेंट ग्रेजुएशन कोर्स भी कर सकते है।

Fashion Designing में Diploma Course करने के लिए Student की न्यूनतम योग्यता 10वी पास होना चाहिए। फिर स्टूडेंट Diploma in Fashion Designing कोर्स को पूरा करके फैशन डिजाइनिंग के क्षेत्र में करियर की शुरुआत कर सकते है। यह 1 – 2 वर्ष का कोर्स होता है। जो किसी भी फैशन डिजाइनिंग इंस्टिट्यूट से किया जा सकता है।

फैशन डिजाइनिंग में ग्रेजुएशन डिग्री हासिल करने के लिए स्टूडेंट को पहले 12वी उत्तीर्ण करना होगा। यानि न्यूनतम योग्यता 12वी उत्तीर्ण होना चाहिए। उसके बाद स्टूडेंट प्रसिद्ध कॉलेज और इंस्टिट्यूट के लिए एंट्रेंस एग्जाम क्वालीफाई कर सकते है। बिना एंट्रेंस एग्जाम यानि डायरेक्ट भी कुछ इंस्टिट्यूट से फैशन डिजाइनिंग कोर्स कर सकते है।

डिप्लोमा या डिग्री हासिल करने के पश्चात् स्टूडेंट को फैशन डिजाइनिंग में काफी अवसर देखने को मिल जाता है। जिसे स्टूडेंट अपने इंटरेस्ट के मुताबिक चुन सकते है। और करियर बना सकते है।

आईटीआई क्या है – 12 वीं के बाद आईटीआई कोर्स10 वीं के बाद फैशन डिजाइनिंग के लिए प्रवेश परीक्षा
लड़कियों के लिए बेस्ट आईटीआई कोर्सऑनलाइन कोर्स कैसे करे?
डाटा एंट्री कोर्स कितने दिन का होता है?टॉप 25 मेडिकल लाइन कोर्स लिस्ट

फैशन डिजाइनिंग कोर्स कितने साल का होता है?

फैशन डिजाइनिंग में डिप्लोमा कोर्स1 – 2 वर्ष
फैशन डिजाइनिंग में ग्रेजुएशन कोर्स3 – 4 वर्ष
कोर्स लेवलडिप्लोमा / डिग्री
योग्यता10वी / 12वी उत्तीर्ण
प्रवेश प्रकिर्याएंट्रेंस एग्जाम / डायरेक्ट
एंट्रेंस एग्जामNIFT, NID DAT, UCEED, CEED,

फैशन डिजाइनर कितने के प्रकार होते है?

फैशन डिजाइनिंग का क्षेत्र काफी बड़ा है। यहाँ स्टूडेंट अपने मन मुताबिक क्षेत्र चुनकर करियर बना सकते है। फैशन डिज़ाइनर के एक से अधिक प्रकार होते है। जो स्टूडेंट पर निर्भर करता है। की वह किस क्षेत्र में दिलचस्पी रखता है। लेकिन फैशन डिज़ाइनर यह क्षेत्र आसानी से चुन सकते है।

  • लक्ज़री फैशन
  • फ़ास्ट फैशन
  • इकोनॉमी फैशन
  • रेडी फैशन
  • फुट वियर फैशन
  • मास मार्किट
  • एक्सेसरीज
  • स्पोर्टवेयर
  • इविनिंग वियर
  • चिल्ड्रन वियर
  • क्लासिक फैशन
  • इको-फैशन
  • लिमिटेड एडिशन

फैशन डिजाइनिंग कॉलेज और फीस

क्र०कॉलेजएवरेज फीस
1गवर्नमेंट पॉलिटेक्निक, पुणे22,850
2पिअरल अकैडमी, बंगलौर18,90,000 – 26,75,000
3एमिटी यूनिवर्सिटी, नॉएडा2,60,000 – 3,21,000
4एनआईएफटी दिल्ली2,50,000
5एनआईएफटी मुंबई3,00,000
6एनआईएफटी चेन्नई4,45,000
7एसआरएम इंस्टिट्यूट ऑफ़ साइंस & टेक्नोलॉजी रामापुरम1,55,000
8चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी4,26,000
9इलाहाबाद यूनिवर्सिटी, इलाहाबाद1,08,000
10आइजीएनओयू यूनिवर्सिटी5,000

फैशन डिजाइनिंग कोर्स कैसे करे?

  • फैशन डिजाइनिंग कोर्स करने के लिए स्टूडेंट को पहले 10वी और 12वी अच्छे अंक से उत्तीर्ण करना होगा।
  • फिर स्टूडेंट को इन NIFT, NID DAT, UCEED, CEED, एंट्रेंस एग्जाम में शामिल होना है, और एंट्रेंस एग्जाम उत्तीर्ण करने के बाद स्टूडेंट को प्रसिद्ध कॉलेज से फैशन डिजाइनिंग कोर्स करने का मौका मिल जायेगा।
  • एंट्रेंस एग्जाम स्टूडेंट को अपने सुविधा के अनुसार चुनना होगा। क्योकि कई अलग-अलग कॉलेज से फैशन डिजाइनिंग कोर्स के लिए विभिन्न-विभिन्न एंट्रेंस एग्जाम कराये जाते है।
  • कॉलेज मिलने के बाद स्टूडेंट को फैशन डिजाइनिंग कोर्स की अवधि तक क्लासरूम स्टडी के साथ प्रैक्टिकल स्टडी प्राप्त करके कोर्स पूरा कर सकते है और डिग्री प्राप्त कर सकते है।
  • डिग्री मिल जाने के बाद स्टूडेंट के लिए नौकरी के अवसर बढ़ जाते है। फिर वह कई अलग अलग क्षेत्र में अपना करियर बना सकते है।

फैशन डिजाइनिंग में करियर

Fashion Designing में करियर बनाने के लिए स्टूडेंट के पास कई विकल्प होते है। फैशन डिज़ाइनर बनकर स्टूडेंट किसी ब्रांड्स या अपने बलबुते पर करियर की शुरुआत कर सकते है। अधिकांश क्लोथिंग ब्रांड्स, फूल वियर ब्रांड्स, बैंगल्स ब्रांड, ज्वेलरी ब्रांड्स, इसके अतिरिक्त तमाम ब्रांड्स को एक अच्छे फैशन डिज़ाइनर की आवश्यकता होती है।

इसके अतिरिक्त क्षेत्र में करियर देख सकते है।

  • फैशन डिज़ाइनर
  • रिटेल बायर
  • रिटेल मैनेजर
  • फैशन जर्नलिस्ट
  • फैशन टेक्सटाइल
  • मेकअप आर्टिस्ट
  • ज्वेलरी डिज़ाइनर
  • फुट वियर डिज़ाइनर
  • पर्सनल शॉपर
  • फैशन स्टाइलिस्ट
  • फैशन मॉडल
  • फैशन फोटोग्राफर
  • फैशन विडिओ मेकर
  • ब्रांड के साथ
  • अन्य करियर ऑप्शन

फैशन डिजाइनिंग सब्जेक्ट्स

  1. फैशन टेक्नोलॉजी
  2. क्लोथिंग कल्चर एंड कम्युनिकेशन
  3. पैटर्न मेकिंग एंड गारमेंट कंस्ट्रक्शन
  4. फैशन इलस्ट्रेशन
  5. एलिमेंट्स ऑफ़ फैशन एंड डिजाइनिंग
  6. फैशन ऑर्नमेंटशन
  7. कंप्यूटर एडिड डिजाइनिंग
  8. फैशन मार्केटिंग
  9. फैशन मैनेजमेंट एंड मर्चेंडाइजिंग
समाप्त

लेख में शेयर की गयी जानकारी से आपको हेल्प मिला होगा। इसमें मैंने बताया है। की फैशन डिजाइनिंग क्या है. फैशन डिजाइनिंग कोर्स क्या है. और जुड़े प्रश्नो के उतर जैसे- फीस, योग्यता, कॉलेज, सैलरी, आदि की भी मैंने इस लेख में आपको जानकारी देने का प्रयास किया है। यदि लेख से जुड़ा आपका किसी भी प्रकार का कोई भी प्रश्न है जिसका आप उत्तर जानना चाहते है। उसे कमेंट करके पूछ सकते है।

यदि लेख से आपको हेल्प मिला हो तो कमेंट सेक्शन में ज़रूर बताये। अगर आप ऐसी ही जानकारी जानने में दिलचस्पी रखते है। तो इस ब्लॉग पर इसके अलावा कई आर्टिकल पब्लिश किये जा चुके है उसे भी आप पढ़ सकते है।

Leave a Comment

error: Content is protected !!