फैशन डिज़ाइनर सैलरी और करियर [ देश और विदेश ]

फैशन डिजाइनिंग में कैरियर बनाने के काफी सारे अवसर मौजूद है। इसी लिए बहुत सारे स्टूडेंट फैशन डिजाइनिंग कोर्स करके अपना कैरियर फैशन डिजाइनिंग क्षेत्र में बनाना चाहते हैं। इसी विषय पर मैं आगे लेकर चर्चा करने वाला हूं। फैशन डिज़ाइनर सैलरी और फैशन डिज़ाइनर करियर पर विस्तृत चर्चा करने वाले है।

वर्तमान में युवाओं का रुझान फैशन डिजाइनिंग की ओर काफी तेजी से बढ़ रहा है। फैशन डिजाइनिंग कोर्स 3 से 4 वर्षो में पूरा करके फैशन के क्षेत्र में कई कैरियर बना सकते हैं। फैशन डिजाइनिंग में स्टूडेंट को कैरियर बनाना काफी आसान हो जाता है। लेकिन उससे पहले स्टूडेंट को 3 से 4 वर्ष की अवधी में कोर्स पूरा करना होगा।

Fashion Designing Course करने के लिए 12वीं पास करने के बाद फैशन डिजाइनिंग में डिग्री प्राप्त कर सकते हैं। इसके अलावा डिप्लोमा और सर्टिफिकेट कोर्स भी मौजूद है। जिसे पूरा करके फैशन डिजाइनिंग क्षेत्र में अपना कैरियर बना सकते हैं।

फैशन डिजाइनिंग कोर्स करने के बाद किन क्षेत्रों में कैरियर बनाया जा सकता है। और कितना सैलरी प्राप्त किया जा सकता है। इस विषय पर विस्तार से चर्चा करने वाले हैं। इसलिए लेख को अंतिम तक पढ़ें। अवश्य आपके प्रश्नों के उत्तर मिलेंगे। और फैशन डिजाइनिंग क्षेत्र से जुड़ी अन्य जानकारी मिलेगी।

फैशन डिज़ाइनर करियर

fashion-designer-salary-aur-career

Fashion Designing में कैरियर बनाने के लिए स्टूडेंट कई सुविधाएं और विकल्प हैं। स्टूडेंट चाहे तो देश या विदेश में अपना कैरियर बना सकते हैं। इसके लिए सबसे पहले स्टूडेंट को फैशन डिजाइनिंग कोर्स कंप्लीट करना होगा। डिग्री प्राप्त करने के बाद स्टूडेंट के सामने कई कैरियर ऑप्शन होते हैं।

Fashion Industry में काफी तेजी से ग्रोथ देखी जा रही है। यही कारण है। कि बहुत सारे स्टूडेंट्स का रुझान फैशन डिजाइनर की ओर दिख रहा है। फैशन डिज़ाइनर बनकर स्टूडेंट्स अधिक क्षेत्र में कैरियर बनाने का मौका पा सकते हैं। लेकिन उसके लिए स्टूडेंट को फैशन डिज़ाइनर के काबिल होना जरूरी है।

फैशन डिजाइनर बनने के लिए स्टूडेंट्स फैशन डिजाइनिंग में डिप्लोमा कोर्स और ग्रेजुएशन डिग्री कोर्स प्राप्त करके फैशन डिजाइनिंग क्षेत्र में कैरियर बनाने के काबिल बन सकते है। फैशन डिजाइनिंग की डिग्री प्राप्त करने के बाद स्टूडेंट्स के सामने कई विकल्प कैरियर सेट करने के मिल जाते हैं।

करियर अवसर की लिस्ट

  • फैशन डिजाइनर
  • फैशन स्टाइलिस्ट
  • फैशन इलस्ट्रेटर
  • रिटेल मैनेजर
  • फैशन ब्लॉगर 
  • टैक्सटाइल डिजाइन
  • फैशन कंसलटेंट
  • फैशन कोऑर्डिनेटर
  • फैशन मर्चेंडाइजर

फैशन डिज़ाइनर सैलरी

फैशन डिजाइन की सैलरी उसके अनुभव और संस्था के ऊपर डिपेंड करता है। कि वह कहां पर नौकरी कर रहा है। आमतौर पर इंडिया में फैशन डिजाइनिंग की सैलरी ₹15,000 से ₹20,000 के बीच हो सकता है। इससे अधिक भी हो सकता है। लेकिन यह शुरुआती दौर का है। जैसे-जैसे अनुभव बढ़ता जाएगा। उसी के मुताबिक सैलरी भी बढ़ती जाएगी। 

लेकिन विदेशों में फैशन डिजाइनर की सैलरी इससे काफी अधिक होती है। विदेशों में एवरेज सैलरी की बात की जाए। तो ₹80,000 से ₹1,00,000 के बीच हो सकता है। जैसे-जैसे क्षेत्र में अनुभव बढ़ता जाएगा। उसी प्रकार से कर्मचारियों की सैलरी भी बढ़ती जाएगी।

इंडिया के मुकाबले विदेश में फैशन डिजाइनर की सैलरी काफी अधिक होती है। इंडिया की बात की जाए। तो विदेशों के मुकाबले इंडिया में काफी कम सैलरी फैशन डिजाइनर को मिलती है। इंडिया में एवरेज सैलेरी की बात की जाए। तो ₹15.000 से ₹20.000 तक हर महीने फैशन डिजाइनर कमा सकते है।

फैशन डिजाइनर फ्रीलांसिंग से घर बैठे भी पैसा कमा सकते है। यह उसके स्किल और अनुभव पर निर्भर करता है। कि वह फ्रीलांसिंग से कितना पैसा कमा सकते है। लेकिन एवरेज फ्रीलांसिंग से कमाई की बात की जाए। तो 8,000 से ₹20,000 तक हर महीने कमा सकते है।

फैशन डिजाइनिंग क्या है और कैसे बने, फीस, योग्यता, कॉलेज,फैशन डिजाइनिंग के लिए कॉलेज बताओ?
10 वीं के बाद फैशन डिजाइनिंग के लिए प्रवेश परीक्षा10th के बाद क्या करे – दसवीं के बाद सब्जेक्ट

फैशन डिजाइनिंग में करियर के अवसर

Fashion Designing में कैरियर बनाने के लिए स्टूडेंट के पास कई विकल्प होते हैं। फैशन डिज़ाइनर चाहे तो विदेश में नौकरी की तलाश भी कर सकते है। या अपने देश में नौकरी की तलाश कर सकते है। लेकिन विदेश में सैलरी अधिक मिलती है। इंडिया में सैलरी कम मिलती है।

लेकिन बात की जाए विदेश में कैरियर बनाने की तो वहा भी बहुत सारे कैरियर विकल्प मिल जाते हैं। जहां पर स्टूडेंट अपना कैरियर फैशन डिजाइनिंग में बना सकते है।

फैशन डिजाइनर का काम क्या होता है?

फैशन डिजाइनिंग कपड़ों और जूतों तक सीमित नहीं है। बल्कि फैशन डिजाइनिंग में बैग, ज्वेलरी, शूज, बॉडी स्ट्रक्चर, टेक्सटाइल, आदि के अलावा भी चीजें आती हैं। यही कारण है। कि फैशन डिजाइनिंग क्षेत्र में काफी सारे जॉब अवसर देखने को मिल जाते हैं।

Fashion Designing क्षेत्र में काफी तेजी से ग्रोथ हो रहा है। जिसके कारण से नए स्टूडेंट के लिए काफी के सारे कैरियर अवसर भी देखने को मिलते हैं। क्योंकि हर एक चीज में फैशन ढूंढी जा रही है। फैशन डिजाइनर की आवश्यकता होती है। जिसमें वह अपना योगदान देते है।

फैशन डिजाइनिंग कोर्स कितने दिन का होता है?

फैशन डिजाइनिंग कोर्स करने के लिए स्टूडेंट के पास एक से अधिक विकल्प है। स्टूडेंट चाहे तो फैशन डिजाइन में सर्टिफिकेट कोर्स प्राप्त कर सकते है। डिप्लोमा कोर्स कर सकते है। या फिर  ग्रेजुएशन डिग्री प्राप्त कर सकते है। इन कोर्सों की अवधि अलग-अलग होती है।

सर्टिफिकेट कोर्स की बात की जाए तो 6 महीने से 1 साल की अवधि होती है। डिप्लोमा कोर्स की अवधि के बात की जाए। तो 1 से 2 साल की अवधि में डिप्लोमा कोर्स फैशन डिजाइनिंग में पूरा किया जा सकता है। फैशन डिजाइनिंग में ग्रेजुएशन डिग्री प्राप्त करना चाहे तो भी वह प्राप्त कर सकते है। लेकिन ग्रेजुएशन डिग्री प्राप्त करने के लिए 3 से 4 वर्ष की अवधि लग सकती है।

इसमें से स्टूडेंट कोई भी कोर्स चुनकर फैशन डिजाइनिंग क्षेत्र में पढ़ाई कर सकते है। और फैशन डिजाइनिंग क्षेत्र से जुड़ी जानकारी प्राप्त कर सकते है और फैशन डिजाइनिंग क्षेत्र में करियर बना सकते है। कोर्स चुनने का विकल्प स्टूडेंट के ऊपर निर्भर करता है। कि वह कौन से अवधि वाला कोर्स चुनता है।

समाप्त

आशा करते हैं। लेख में दी गई जानकारी से आपको हेल्प मिला होगा। और आपके द्वारा खोजे जा रहे प्रश्न का उत्तर मिला होगा। इसलिए जो मैंने बताया है फैशन डिजाइनर सैलरी और फैशन डिज़ाइनर करियर से संबंधित प्रश्नों के उत्तर मैंने लेख में देने का प्रयास किया है। और फैशन डिजाइनिंग कोर्स करके नौकरी कैसे प्राप्त कर सकते हैं। उस पर मैंने विशेष चर्चा की है।

ऐसे ही ब्लॉग पर एक से अधिक आर्टिकल पब्लिश किए जा चुके हैं। उसे भी आप पढ़ सकते हैं। और अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। संबंधित किसी प्रकार के लिए कमेंट कर सकते हैं। आपके प्रश्न का उत्तर अवश्य दिया जाएगा। इस लेख से हेल्प मिला हो। तो आप इसे आगे भी शेयर करें। ताकि और लोगो को भी इस लेख से हेल्प मिल सके।

Leave a Comment

error: Content is protected !!