एंट्रेंस एग्जाम क्या होता है | एंट्रेंस एग्जाम की तैयारी कैसे करें?

एंट्रेंस एग्जाम क्या होता है अधिकतर स्टूडेंट इस एग्जाम के बारे में जानना चाहते है इससे जुड़े और प्रश्नो के उत्तर जानना चाहते होंगे जैसे एंट्रेंस एग्जाम की तैयारी कैसे करें, सरकारी एंट्रेंस एग्जाम 12वी के बाद कौन सा एंट्रेंस दे सकते है इन सभी प्रश्नो के उत्तर इस लेख में देने वाला हूँ इसके अतिरिक्त भी कुछ अन्य प्रश्नो के उत्तर भी जानेंगे।

12वी पास करने के बाद स्टूडेंट के पास कई विकल्प होते है यही से स्टूडेंट अपने लाइफ का डिसिशन लेता है की किस क्षेत्र में करियर सेट करना है लाइफ में क्या करना है उसी के मुताबिक स्टूडेंट अपनी पढाई को इंटरमीडिएट के बाद कंटिन्यू करता है अक्सर स्टूडेंट अपना करियर इंजीनियरिंग, डॉक्टर, वकील, बैंक एम्प्लोयी, इनकम टैक्स ऑफिसर, बनने के लिए स्टूडेंट अपनी पढाई करते है।

इंटरमीडिएट के बाद स्टूडेंट कई एंट्रेंस एग्जाम में शामिल हो सकता है स्टूडेंट को जिस क्षेत्र में करियर बनाना है उसी क्षेत्र में वह एंट्रेंस एग्जाम में शामिल हो सकता है जैसे इंजीनियरिंग कोर्स करने के लिए इंजीनियरिंग के लिए एंट्रेंस एग्जाम देना होगा वही डॉक्टर बनने के लिए स्टूडेंट को मेडिकल क्षेत्र से जुड़े एंट्रेंस एग्जाम पास करने पड़ेगे।

अकसर स्टूडेंट 12वी पास कर तो लेता है लेकिन उसके सामने कई विकल्प होते है जिससे वह कंफ्यूज रहता है की आगे पढाई किस क्षेत्र में करे कई स्टूडेंट को पता ही नहीं होता है कि 12वी के बाद क्या करे किस कोर्स के लिए एंट्रेंस एग्जाम दे एंट्रेंस एग्जाम दे की नहीं इसी विषय पर मैं विस्तृत जानकारी आपको देने वाला हूँ 12वी के बाद कौन कौन सा एंट्रेंस एग्जाम दे सकते है।

एंट्रेंस एग्जाम क्या होता है – Entrance exam kya hota hai?

entrance-exam-kya-hota-hai

Entrance Exam यूजी और पीजी में दाखिला पाने के लिए एक तरह का प्रवेश परीक्षा है ये परीक्षा सभी यूजी और पीजी कोर्स के लिए अलग अलग परीक्षा पास करनी होती है ग्रेजुएशन कोर्स में प्रवेश लेने के लिए 12वी के बाद एंट्रेंस एग्जाम दे सकते है वही पीजी यानि पोस्ट ग्रेजुएशन कोर्स के लिए एंट्रेंस एग्जाम ग्रेजुएशन पूरा करने के बाद दे सकते है।

हर एक यूनिवर्सिटी में अलग अलग कोर्स के लिए एंट्रेंस एग्जाम कराये जाते है चाहे वो प्राइवेट यूनिवर्सिटी हो या सरकारी यूनिवर्सिटी हो अधिकतर यूनिवर्सिटी में प्रवेश परीक्षा यानि Entrance Exam के आधार पर ही स्टूडेंट को कोर्स में प्रवेश मिलता है स्टूडेंट अपने इंटरेस्ट के हिसाब से जो कोर्स करना चाहते है उसी कोर्स का एंट्रेंस एग्जाम दे सकते है।

इंजीनियरिंग में ग्रेजुएशन करने के लिए विद्यार्थी को 12वी के बाद जेईई मेंन का परीक्षा पास करना होता है इस एंट्रेंस एग्जाम को पास करके बीटेक कोर्स या बीआई कोर्स कर सकते है वही डॉक्टर बनने के लिए नीट परीक्षा पास करना होगा इन परीक्षाओ को पास करने के बाद अच्छे कॉलेज में स्टूडेंट को प्रवेश मिल जाता है उसके बाद पढाई करके कोर्स पूरा करके डिग्री प्राप्त कर सकते है

इसके अलावा भी कई एंट्रेंस नेशन टेस्टिंग एजेंसी के द्वारा आयोजित कराई जाती है इसके अतिरिक्त हर स्टेट में अलग अलग एंट्रेंस एग्जाम का आयोजन किया जाता है कई एंट्रेंस एग्जाम का स्टेट लेबल पर आयोजन किया जाता है कुछ परीक्षा को नेशनल लेबल पर आयोजित किया जाता है कई यूनिवर्सिटी के द्वारा भी स्टूडेंट के प्रवेश के लिए कई परीक्षाओ का आयोजन किया जाता है।

एंट्रेंस एग्जाम की तैयारी कैसे करें?

वर्तमान समय में एंट्रेंस एग्जाम काफी तफ हो गया है हर एक परीक्षा के लिए अलग अलग टाइप के प्रश्न पूछे जाते है किसी भी एंट्रेंस एग्जाम को पास करना कोई आसान काम नहीं है बल्कि काफी तफ परीक्षाएं होती है इस लिए स्टूडेंट को उसी के मुताबिक तैयारी भी करनी पड़ती है किसी भी एंट्रेंस एग्जाम को पास करने के लिए काफी मेहनत करने की आवश्यकता होती है।

सबसे पहले आपको ये तय करना है किस कोर्स के लिए कौन सा एंट्रेंस एग्जाम देना चाहते है उसी के मुताबिक आपको तैयारी करना होगा क्योकि बहुत सारे एंट्रेंस एग्जाम होते है जो सभी कोर्स के लिए अलग अलग होते है इसका पहले फाइनल डिसिशन लेना होगा उसके बाद उस परीक्षा के लिए मन लगाकर तैयारी करना होगा।

अगर आप इंजीनियरिंग कोर्स करना चाहते है तो आपको फिजिक्स केमिस्ट्री और मैथमैटिक्स सब्जेक्ट पर खास फोकस करना होगा वही डॉक्टर बनने के लिए मेडिकल क्षेत्र की पढाई के लिए आपको फिजिक्स, केमिस्ट्री, बायोलॉजी, विषय पर फोकस करना होगा ताकि एंट्रेंस एग्जाम क्वालीफाई करने में आगे आसानी हो।

तैयारी के साथ आपको पुराने परीक्षाओ के क्वेश्चन पेपर साल्व करते रहना है पिछले पांच सालो के एग्जाम पेपर को आप सॉल्व करे उसी के मुताबिक अपनी तैयारी करे कई एंट्रेंस एग्जाम के लिए 12वी के बाद कोचिंग भी करनी पड़ती है अगर आप किसी बड़े एंट्रेंस एग्जाम को क्रैक करने के फ़िराक में है तो आपको खुद की पढाई के साथ कोचिंग भी लेनी पड़ेगी।

सरकारी एंट्रेंस एग्जाम।

यदि आप 12वी के बाद सरकारी कॉलेज में इन कोर्सो के लिए प्रवेश लेना चाहते है तो आपको मैं निचे कुछ एंट्रेंस परीक्षाओ के नाम बता रहा हूँ इन परीक्षाओ को आप इंटरमीडिएट के बाद दे सकते है और क्वालीफाई करके प्रवेश ले सकते है ये एंट्रेंस एग्जाम अलग अलग कोर्स के लिए आपको देने होंगे।

  • JEE Main
  • NATA
  • NEET
  • JIPMER
  • CLAT
  • NCHMCT JEE
  • UPSEE
  • KEAM
  • KCET
  • WBJEE
  • AP EAMCET
  • TS EAMCET

इन परीक्षाओ में विद्यार्थी 12 के बाद शामिल हो सकता है इसमें कई अलग अलग कोर्स के लिए परीक्षा देना पड़ सकता है इसमें नेशनल लेबल की परीक्षा और राज्य लेबल की शामिल है इसमें आप जो भी एंट्रेंस एग्जाम देना चाहे आप दे सकते है।

एंट्रेंस एग्जाम का मतलब क्या होता है?

एंट्रेंस एग्जाम का मतलब आप इस तरह से समझ सकते है किसी कोर्स के लिए अच्छे यूनिवर्सिटी या सरकारी यूनिवर्सिटी में प्रवेश लेने के लिए एंट्रेंस एग्जाम देना पड़ता है क्योकि प्रसिद्ध यूनिवर्सिटी में बड़ी संख्या में स्टूडेंट प्रवेश लेना चाहते है और यूनिवर्सिटी में लिमिटेड सीटे होती है सीट के हिसाब से अधिक फॉर्म अप्लाई हो जाते है इसलिए एंट्रेंस परीक्षा के आधार पर प्रवेश मिलता है जो स्टूडेंट अच्छे नंबर से एंट्रेंस एग्जाम पास करते है उन्ही को कोर्स में प्रवेश मिलता है।

आशा है यह लेख आपको पसंद आया होगा इसमें हम लोगो ने जाना है कि एंट्रेंस एग्जाम क्या होता है. एंट्रेंस एग्जाम की तैयारी कैसे करें, इसके अतिरिक्त अन्य प्रश्नो के उत्तर इस लेख में हम लोगो ने जाने है ऐसी ही जानकारी इस ब्लॉग पर शेयर की जाती है अधिक इनफार्मेशन के लिए इस ब्लॉग पर पब्लिश और आर्टिकल पढ़ सकते है।

इस लेख से सम्बंधित आपका कोई प्रश्न हो तो कमेंट बॉक्स के जरिये पूछ सकते है उसका उत्तर आपको मिल जायेगा लेख पसंद आया हो तो इसे सोशल मीडिया से और लोगो तक पहुचाये ताकि ये यूज़फूल इनफार्मेशन और हमारे प्रिये पाठक तक पहुंच पाए।

Leave a Comment

error: Content is protected !!