डाटा एंट्री क्या है – डाटा एंट्री कितने प्रकार के होते है?

बहुत लोगो ये नहीं पता है कि डाटा एंट्री क्या है? और डाटा एंट्री ऑपरेटर कैसे बने? वर्तमान समय में हर व्यक्ति घर बैठे पैसे कमाना चाहता है ऑनलाइन या घर बैठे पैसे कमाना इतना आसान भी नहीं होता है लेकिन ऑनलाइन कुछ काम करके लाखो रूपये भी कमा सकते है तो हम लोग आज बात करेंगे डाटा एंट्री जॉब की इस जॉब या काम को करने के लिए आपको कुछ स्किल सिखने की जरूरत होती है।

डाटा एंट्री करने के लिए आपको कुछ चीजों का ज्ञान होना बहुत ज़रूरी है डाटा एंट्री को कोई भी कही से कर सकता है इस काम को करने के लिए आपको कम्प्यूटर की सामान्य जानकारी होना बहुत ज़रूरी है।

data entry kya hai
data entry kya hai

डाटा एंट्री जॉब को पार्ट या फूल टाइम में किया जा सकता है ऐसे काम हर कोई करना चाहता है क्योकि आज बढ़ते महगाई को देखते हुए हर व्यक्ति अपना कुछ समय निकाल कर काम करने के लिए तैयार रहता है इस काम को महिलाये या बच्चे या कालेज स्टूडेंट कोई भी कर सकता है ऐसे कामो में कोई दिमागी टेंसन नहीं होता है जब टाइम मिले तभी इस काम को पूरा किया जा सकता है जो अगर आप भी डाटा एन्ट्री के बारे में जानना चाहते हो तो ये आर्टिकल आपके के लिए है इस पोस्ट में बात करेंगे कि डाटा एंट्री क्या है और कैसे करे।

डाटा एंट्री क्या है-what is data entry in hindi?

डाटा एंट्री का मतलब किसी हार्ड कॉपी से सॉफ्ट कॉपी में कन्वर्ट करना किसी टाइपिस्ट के द्वारा सॉफ्टवेयर पर डेटा टाइप करके इकठ्ठा करना इसी को डाटा इंट्री कहते है डाटा इंट्री कई प्रकार का हो सकता है डाटा एंट्री किसी एक कम्प्यूटर ऑपरेटर द्वारा किया जाता है डाटा एंट्री करने वाले को डाटा एंट्री ऑपरेटर Data Entry Opretor कहते है।  

डाटा एंट्री ऑपरेटर द्वारा कम्प्यूटर के किसी विशेष सॉफ्टवेयर पर डाटा को एंटर करके स्टोर किया जाता है जैसे MS Office के Word Pad, Excel, जैसे बहुत सारे सॉफ्टवेयर पर डाटा एंट्री का काम किया जाता है कंप्यूटर में कीबोर्ड के माध्यम से कुछ भी इनपुट किया जाता है उसे भी डाटा एंट्री कहा जाता है डाटा किसी भी रूप में चाहे वो Text हो या Image, vedio, ये कम्प्यूटर के लिए एक प्रकार से डाटा ही होता है।

डाटा एंट्री कितने प्रकार के होते है?

डाटा एंट्री के प्रकार की बात करे तो वर्तमान समय में बहुत सारे प्रकार से डाटा एंट्री को किया जाता है आइये जानते है।

एक्सेल डाटा एंट्री-Excel Data Entry

इसमें किसी टॉपिक पर आपको एक्सेल पर डाटा एंटर करना होता है जैसे अपने द्वारा कॉपी में लिखे गए नोट्स या अन्य प्रकार के डाटा को एक्सेल में एंट्री करना होता है ये डाटा एंट्री बहुत ही आसान और कम समय में हो जाता है।

स्पेलिंग चेकर-Spelling Checker

इस प्रकार के डाटा एंट्री में किसी के द्वारा लिखे हुए आर्टिकल में गलत स्पेलिंग या वर्ड्स को देखकर सही करना होता है जैसे कोई एक आर्टिकल में गलती निकालना होता है तथा उसको पूर्ण रूप से सही करना होता है।

पेपर डॉक्यूमेंटेशन-Paper Documentation

ऐसे डाटा एंट्री को किसी पेपर में छपे डाटा कंप्यूटर में टाइप करना जैसे हार्ड कॉपी से सॉफ्ट कॉपी बनाना ये बहुत आसान डाटा एंट्री माना जाता है।

जॉब पोस्टिंग-Job Posting

डाटा एंट्री के लिये बहुत सारी वेबसाइट होती है जहा समय समय पर नई नई जॉब के लिए अपडेट देना होता है उसके लिए आर्टिकल लिखने होते है ये भी एक प्रकार का डाटा एंट्री होता है।

डाटा कन्वर्शन-Data Conversion

इस प्रकार के डाटा एंट्री में किसी फाइल्स को कोई दूसरे फाइल में कन्वर्ट करना होता है बड़ी बड़ी कम्पनियो में ऐसे डाटा एंट्री बल्क में होते है जैसे किसी PDF फाइल को Word में कन्वर्ट करना या फिर word to pdf  करना इस प्रकार के डाटा एंट्री को डाटा कन्वर्शन कहते है।  

डाटा एंट्री ऑपरेटर कैसे बने?

डाटा एंट्री ऑपरेटर बनने के लिए कोई जरूरी नहीं है कि आपके पास ज्यादा डिग्री या डिप्लोमा होना चाहिए लेकिन आपको कुछ टेक्निकल जानकारी होना आवश्यक है जैसे कंप्यूटर की तथा इंटरनेट की जानकारी होना बहुत जरूरी है।

शैक्षिक योग्यता-की बात तो आपको हाई स्कूल इंटरमीडिएट तक शिक्षित होना चाहिए क्योकि आज के समय में इतना शैक्षिक योग्यता होना जरूरी है बिना 10th और 12th के सर्टिफिकेट के बिना किसी कम्पनी में जॉब के लिए अप्लाई नहीं कर सकते है।

डाटा एंट्री का काम कैसे शुरू करे?

डाटा एंट्री को शुरू करने के लिए दो तरीके हो सकते है पहला ऑफलाइन और दूसरा ऑनलाइन दोनों तरीको से अच्छा पैसा कमा सकते है।

ऑनलाइन Online

अभी के समय डाटा एंट्री से ऑनलाइन घर बैठे बहुत अच्छा पैसा कमा सकते है ऑनलाइन डाटा एंट्री के लिए बहुत सारे प्लेटफार्म उपलब्ध है जैसे Fiber, Freelancer, ऐसे बहुत सारी वेबसाइट है जहा आपको डाटा एंट्री का काम मिल सकता है यहाँ आपको एक अकाउंट बनाना होगा और आपको धीरे धीरे काम मिलना शुरू हो जायेगा। 

ऑफलाइन Offline

ऑफलाइन में आप डाटा एंट्री सीखकर आप कही किसी कम्पनी में जॉब कर सकते है ऑफलाइन डाटा एंट्री के लिये आप अपना काम भी शुरू कर सकते है इसमें आपको बहुत सारे ऑफलाइन  काम मिलते तथा किसी कम्पनी से जुड़कर भी ऑफलाइन डाटा एंट्री कर सकते है।

निष्कर्ष Conclusion

मै उम्मीद करता हूँ कि आपको डाटा एंट्री क्या है – डाटा एंट्री कितने प्रकार के होते है? इस पोस्ट से काफी हेल्प मिला होगा और आपको डाटा एंट्री से सम्बंधित जॉब करने में आसानी होगा जो अगर आपको इससे सम्बंधित कोई सवाल है तो आप कमेंट करके पूछ सकते है मै उसका जवाब आपको ज़रूर दूंगा तथा आप ऐसे पोस्ट पढ़ेंने में इंटरेस्ट रखते है तो आप हमारे फेसबुक और इंटस्टाग्राम के पेज को फॉलो करे और हर रोज नई नई जानकारी पाये हिंदी में. (धन्यवाद्)

2 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!