CTET क्या है – CTET full form in hindi, योग्यता, सिलेबस, फीस

हर विद्यार्थी के पढाई करने का कोई एक मकसद होता है। की भविष्य में पढाई करके क्या बनना है अगर आप भविष्य में शिक्षक बनने के बारे में सोच रहे है। तो आपने सीटीईटी और टीईटी के बारे में ज़रूर सुना होगा लेकिन अधिकतर कैंडिडेट को इस विषय में अधिक जानकारी नहीं होती है। इस लेख में हम यही बताएँगे की CTET क्या है CTET full form in hindi, योग्यता, सिलेबस, फीस कितनी होती है इन सभी प्रश्नो के उत्तर इस लेख में देंगे।

बहुत सारे स्टूडेंट का एक सपना होता है। अपनी पढाई पूरी करके एक शिक्षक बने अगर आप भी टीचर बनना चाहते है तो आपको CTET Exam के बारे में जानकारी प्राप्त करके एग्जाम क्वालीफाई करना होगा। क्योकि बिना सीटीइटी एग्जाम क्वालीफाई किये। केंद्रीय विद्यालयों में शिक्षक पद पर आवेदन कर पाना मुश्किल है।

अगर आप किसी भी केंद्रीय स्कूलों में प्राइमरी या अपर प्राइमरी टीचर बनना चाहते है। तो आपको सीटेट एग्जाम क्वालीफाई करना ही होगा। इस परीक्षा को हर वर्ष आयोजित किया है। जिसमे 12वी एवं बीएड उत्तीर्ण विद्यार्थी शामिल हो सकते है इस परीक्षा को उत्तीर्ण करके ही अभियार्थी केंद्रीय विद्यालयों में टीचर पद के लिए पात्र होते है।

हर स्टूडेंट का कोई न कोई सपना होता है की भविष्य में पढाई करके इंजीनियर, डॉक्टर, वकील, बैंक मैनेजर, एयरहोस्टेस, पुलिस, इनकम टैक्स ऑफिसर, या टीचर बनने का बहुत सारे विद्यार्थीयो का सपना होता है। इस लेख में टीचर बनने के सीटीईटी एग्जाम के बारे में विस्तृत जानकारी प्राप्त करेंगे।

CTET क्या है – CTet kya hai?

ctet-kya-hai

सीटीईटी केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा है इस परीक्षा को केंद्रीय विद्यालय में शिक्षक भर्ती के लिए कराया जाता है। अगर कैंडिडेट केंद्रीय विद्यालय में शिक्षक बनना चाह रहा है। तो उसे सीटेट एग्जाम उत्तीर्ण करना होगा। यह शिक्षक के लिए अनिवार्य है। इस परीक्षा को CBSE (Central Board of Secondary Education) केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा परिषद के द्वारा आयोजित किया जाता है।

CTET Exam एक वर्ष में दो बार आयोजित की जाती है। इस परीक्षा को सन 2011 से केंद्रीय विद्यालय के शिक्षक के लिए अनिवार्य कर दिया गया है। इस परीक्षा के बिना अभियार्थी केंद्रीय स्कूलों में शिक्षक के पात्र नहीं होगे। और आवेदन नहीं कर पायेगे। सभी सरकारी टीचर को यह परीक्षा उत्तीर्ण करना ही होता है।

सीटेट परीक्षा का मुख्य उदेश्य यही है की योग्य कैंडिडेट को सेलेक्ट करना। इस परीक्षा को उत्तीर्ण करने के बाद योग्य अभियार्थी ही बचते है। जिससे शिक्षक भर्ती में आसानी होती है। योग्य कैंडिडेट को शिक्षक एग्जाम या इंटरव्यू क्वालीफाई करने में आसानी होती है।

इस परीक्षा को देश के सभी राज्यों में आयोजित कराइ जाती है। जिससे देश के अलग अलग राज्य में मौजूद सरकारी स्कूलों में शिक्षक की भर्ती की जाती है। इस परीक्षा को नेशनल कौंसिल फॉर टीचर एजुकेशन (एनसीटीई) के द्वारा निर्धारित नियमो के अनुसार केंद्रीय विद्यालय के शिक्षक के लिए अनिवार्य कर दिया गया है।

मिलते जुलते लेख

CTET full form in hindi.

सीटीईटी का पूरा नाम होता है। कई लोगो को पता नहीं होगा। तो आपको बता दू CTET full form Central Teacher Eligibility Test और हिंदी में केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा होता है। इस परीक्षा को शिक्षक बनने के लिए क्वालीफाई करना अनिवार्य होता है।

सीटेट परीक्षा से योग्य कैंडिडेट का चयन किया जाता है। ताकि योग्य अभियार्थी ही शिक्षक पद के लिए आवेदन कर पाए। योग्य अभियार्थी ही शिक्षक पद पर भर्ती पा सके। इस परीक्षा के उत्तीर्ण किये बिना केंद्रीय विद्यालय में शिक्षक पद के लिए आवेदन नहीं कर पाएंगे।

CTET के लिए योग्यता।

सीटेट के योग्यता क्या होनी चाहिए। इसमें कई कैंडिडेट कंफ्यूज रहते है। क्योकि CTET के दो पेपर होते है। Paper 1 में कक्षा 1 से 5वी तक पढ़ाने वाले शिक्षक बैठ सकते है। वहीं Paper 2 में कक्षा 6 से 8 तक पढ़ाने वाले शिक्षक बैठ सकते है। इन दोनों पेपर में बैठने के लिए शैक्षणिक योग्यता अलग अलग होती है आइये जानते है।

Paper 1

पेपर 1 वह शिक्षक देते है। जो कक्षा 1 से 5 तक के बच्चो को पढ़ाने के लिए शिक्षक बन रहे है यानि इस परीक्षा को उत्तीर्ण करके शिक्षक प्राइमरी के विद्यार्थियों को शिक्षित कर सकते है। पेपर 1 के लिए अभियार्थी 12वी में 50% अंक से पास होना चाहिए। साथ ही दो वर्ष का डिप्लोमा D.EL.DE / B.EL.DE / B.ED / उत्तीर्ण अभियार्थी पेपर 1 के लिए आवेदन कर सकते है।

Paper 2

पेपर 2 वह शिक्षक देते है। जो कक्षा 6 से 8 के विद्यार्थी को पढ़ाने के शिक्षक बन रहे है। इस पेपर को उत्तीर्ण करके अभियार्थी अपर प्राइमरी के विद्यार्थीयो को पढा सकते है। इस पेपर के लिए अभियार्थी को ग्रेजुएशन 50% मार्क्स से पास होना चाहिए। ग्रेजुएशन के साथ B.ED कम्पलीट होना चाहिए इसके अलावा 12th एवं चार वर्षीय B.EI.Ed या 12th एवं 4 वर्षीय B.A/B.Sc.Ed या B.A.Ed/B.Sc.Ed उत्तीर्ण करके अभियार्थी पेपर 2 के लिए आवेदन कर सकता है।

CTET syllabus in hindi.

सीटेट एग्जाम में क्या क्या पूछा जाता है तो मैं आपको बता दू दोनों पेपर का अलग अलग सिलेबस है। दोनों पेपर में 150 प्रश्न पूछे जाते है। वह एक एक अंक के प्रश्न होते है कुल 150 अंक के प्रश्न पूछे जाते है इस पेपर को पूरा करने के लिए 2:30 घंटे का टाइम मिलता है।

पेपर 1

सब्जेक्टप्रश्न सं०अंक
बाल विकास और शिक्षाशास्त्र (Child Development & Pedagogy)3030
भाषा 1 (Language 1)3030
भाषा 2 (Language 2)3030
गणित (Mathematics)3030
पर्यावरण अध्यन (Environmental Studies)3030
कुल150150

पेपर 2

सब्जेक्टप्रश्न सं०अंक
बाल विकास और शिक्षाशास्त्र (Child Development & Pedagogy)3030
भाषा 1 (Language 1)3030
भाषा 2 (Language 2)3030
गणित / विज्ञानं / सामाजिक विज्ञानं / सामाजिक अध्यन6060
कुल150150

CTET की फीस।

इस परीक्षा में शामिल होने के लिए पहले आवेदन करना पड़ता है। आवेदन करने के लिए अभियार्थी को कुछ शुल्क देने पड़ता है। आइये जानते है।

पेपर 1 और पेपर 2 एक पेपर के लिए

केटेगरीशुल्क
जनरल / ओबीसी1000
ऐसी / एसटी / अन्य केटेगरी500

पेपर 1 और पेपर 2 साथ भरने पर

केटेगरीशुल्क
जनरल / ओबीसी1200
ऐसी / एसटी / अन्य केटेगरी600

सीटेट का एग्जाम कब होगा?

सीटेट का एग्जाम एक वर्ष में दो बार आयोजित किया जाता है। दोनों एग्जाम अलग अलग टाइम पर आयोजित किये जाते है। एग्जाम का डेट आगे पीछे होता रहता है। अगर आप आने वाले सत्र में आवेदन करना चाहते है। तो आपको https://ctet.nic.in की ऑफिसियल वेबसाइट पर नोटिफिकेशन मिल जायेगा। वहा से आप सीटेट एग्जाम की सभी जानकारी को ले सकते है।

शिक्षक पात्रता परीक्षा क्या है?

शिक्षक पात्रता की परीक्षा चाहे CTET हो या TET परीक्षा का उद्देश्य यही है की योग्य अभियार्थी का चयन करना। इस परीक्षा को योग्य अभियार्थी ही क्वालीफाई कर पाते है। जिससे वह आगे शिक्षक पद के लिए आवेदन कर पाते है। इन परीक्षाओ में शिक्षकों की पात्रता जांची जाती है। की अभियार्थी शिक्षक पद के लिए योग्य है की नहीं। इसके बाद शिक्षक पद पर भर्ती होने के लिए आवेदन कर पाते है।

आशा करते है इस लेख में दी गयी जानकारी CTET क्या है और CTET full form in hindi क्या होता है इसके अतिरिक्त मैंने कई प्रश्नो के उत्तर इस लेख के माध्यम से देने का प्रयास किया है। इस ब्लॉग पर मैं इसी तरह का कंटेंट पब्लिश करता रहता हूँ। अधिक जानकारी के लिए पब्लिश दूसरे लेख पढ़ सकते है।

यदि इस लेख से जुड़ा आपका कोई प्रश्न हो जिसका आप उत्तर जानना चाहते है। कमेंट के जरिये से अपने प्रश्न का उत्तर जान सकते है। यह लेख पसंद आया हो इसे सहायता मिला हो तो इसे सोशल मीडिया पर शेयर करना न भूले ताकि अधिक लोगो तक यह लेख पहुंच सके।

Leave a Comment

error: Content is protected !!