सिविल इंजीनियर कैसे बने? पूरी जानकारी हिंदी में।

हर छात्र का एक ही मकसद होता है पढाई करना फिर किसी क्षेत्र में करियर बनाना लेकिन अधिकतर छात्र कंफ्यूज रहते है की किस फील्ड में अपना करियर बनाये तो इस आर्टिकल में हम आपको यह बताएँगे की सिविल इंजीनियर कैसे बने. civil engineer in hindi. सिविल इंजीनियर की सैलरी क्या होती है. ऐसे सवाल का गहन अध्यन करेंगे।

सिविल इंजीनियरिंग वर्तमान समय के काफी पॉपुलर और लोकप्रिय कोर्सो में से एक है इस कोर्स को पूरा करने के बाद आप बड़ी आसानी से प्राइवेट क्षेत्र में या किसी सरकारी क्षेत्र में करियर सेट कर सकते है लेकिन किसी क्षेत्र में करियर बनाने से पहले उस क्षेत्र के बारे विस्तृत जानकारी होना आवश्यक है।

प्रत्येक छात्र पढाई पूरा करने के बाद अपने भविष्य को किसी क्षेत्र में सेट करता है जिससे कुछ आमदनी हो और उससे जीवन की खुवाहिसो को पूरा कर सके यह हर व्यक्ति का एक सपना होता है यही कई छात्र अपने सपने को अचीव कर लेते है और कई छात्र इन सपने को अचीव करने से वंचित रह जाते है इसका सबसे बड़ा कारण यह है की उस विषय के बारे पूर्ण जानकारी न होना।

आप इस क्षेत्र में करियर बनाने की सोच रहे है की भविष्य में एक सिविल इंजीनियर बने. तो यह जानकारी आपकी काफी हेल्प करेगा जिससे आपको आगे के कोर्स को पूरा करने में आसानी होगा और आप अपने सपने को सच कर पाएंगे।

सिविल इंजीनियर क्या होते है?

civil engineer kaise bane

जब छात्रो के द्वारा इंजीनियरिंग की पढाई सिविल साइड को लेकर पूरा किया जाता है तब वो सिविल इंजीनियर बनते है सिविल इंजीनियर बनने के लिए डिप्लोमा किया जा सकता है नहीं तो सिविल से बैचलर डिग्री भी हासिल किया सकता है कोर्स पूरा होने के बाद आप एक सिविल इंजीनियर बन जाते है।

सिविल इंजीनियर का मुख्य कार्य ईमारत (Building) सड़क (Road) घर बनाना, कंट्रक्शन, बांध (Dam) नक्शा (Design) इत्यादि बनाने में एक सिविल इंजीनियर की ज़रुरत होती है जिसका पूर्ति एक इंजीनियर के द्वारा ही किया जा सकता है।

एक सिविल इंजीनियर को कई क्षेत्र (Field) में करियर बनाने का मौका मिल जाता है यही कारण है की सिविल इंजीनियरिंग में भारी मात्रा में छात्र प्रवेश लेते है और अपना करियर बनाते है।

Read.

सिविल इंजीनियर कैसे बने?

आज के आधुनिक युग में देश काफी प्रगति पर है छोटे शहरो में बड़ी इमारते अच्छी सड़के अच्छे डिज़ाइन के घर बनाने में एक सिविल इंजीनियर का अहम् किरदार होता है इस लिए काफी तेजी हर क्षेत्र को ग्रोथ मिल रहा है।

अगर आप इस प्रगति को सहयोग करना चाहते है तो आप Civil Engineering कर सकते है और शहरो को ख़ूबसूरत बनाने में हेल्प कर सकते है सिविल इंजीनियरिंग का बहुत ही व्यापक क्षेत्र है जिससे बहुत तेजी से बढ़ोत्तरी होती जा रही है आइये जानते है की civil engineer kaise bane?

  1. 10th पास करे : जूनियर सिविल इंजीनियरिंग के लिए 10th उत्तीर्ण होने के बाद polytechnic के लिए एंट्रेंस दे सकते है यहा आप 10th के बाद सीधे कॉलेज पहुंच जायेंगे यह कोर्स 3 साल का होता है इसे पूरा करने के बाद आप जूनियर सिविल इंजीनियर बन सकते हो।
  2. 12th पास करे : सिविल इंजीनियरिंग की पढाई के लिए 12th उत्तीर्ण होना ज़रूरी है लेकिन इंटरमीडिएट में आपको साइंस साइट चुनना होगा जिसमे फिजिक्स, केमिस्ट्री, बायोलॉजी, जुड़ा हो तभी आप सिविल इंजीनियरिंग के लिए एंट्रेंस एग्जाम दे पाएंगे।
  3. एंट्रेंस एग्जाम दे : यह एग्जाम पास होने के बाद आपको किसी सरकारी कॉलेज में प्रवेश मिल जायेगा अगर आप यह एग्जाम नहीं पास हो रहे या एंट्रेंस नहीं देना चाहते है फिर आप किसी प्राइवेट में कॉलेज में सीधे प्रवेश ले सकते है सीधे अड्मिशन लेने के लिए हाई स्कूल पूरा होने पर पॉलिटेक्निक में और इंटरमीडिएट पूरा होने पर B.tech में अड्मिशन ले सकते है।
  4. सिविल की पढाई पूरी करे : जैसे आप किसी कॉलेज में अड्मिशन पा जाते है उसके बाद आपको 4 साल की पढाई पूरी करनी होगी इसमें आपको contruction निर्माण से सम्बंधित जानकारी दी जाएगी घर का डिज़ाइन कैसे बनाये, रोड कैसे बनता है, और किन चीजों का खास ध्यान देना होता है यह पूर्ण जानकारी दी जाती है।
  5. इंटर्नशिप पूरा करे : सिविल इंजीनियर के लिए अनुभव (Experience) बहुत महत्वा रखता है पढाई पूरा करने के बाद किसी इंजीनियर के पास वह जानकारी नहीं होती है जो एक्चुअल में ज़रुरत होती है इसके लिए आपको एक्सपीरियंस लेना या प्रैक्टिकल जानकारी लेना बहुत ज़रूरी है उसके बाद आप किसी बड़ी कंपनी में सिविल इंजीनियर पोस्ट के लिए अप्लाई करे ताकि आपको आसानी से कंपनी के द्वारा भर्ती कर लिया जाये।

सिविल इंजीनियर सब्जेक्ट।

सिविल इंजीनियरिंग में कौन से विषय पढ़ाये जाते है।

  • कोस्टल इंजीनियरिंग
  • अर्थक्वेक इंजीनियरिंग
  • कंट्रक्शन इंजीनियरिंग
  • फॉरेंसिक इंजीनियरिंग
  • मटेरियल साइंस इंजीनियरिंग
  • स्ट्रक्चरल इंजीनियरिंग
  • आउटसाइट प्लांट इंजीनियरिंग
  • एनवायरमेंट इंजीनियरिंग
  • जिओटेक्नीकल इंजीनियरिंग

सिविल इंजीनियरिंग के लिए योग्यता।

हर क्षेत्र में शैक्षणिक योग्यता की आवश्यकता होती है उसी हिसाब से एक सिविल इंजीनियर के लिए काफी अवश्य है योग्यता।

सिविल इंजीनियरिंग के लिए न्यूनतम 12th पास होना ज़रूरी है 12th विज्ञानं वर्ग यानि Physics, Chemistry, Biology, से 60% मार्क से उत्तीर्ण होना आवश्यक है उसके बाद AIEEE, IIT, जैसे एंट्रेंस एग्जाम दे सकते है।

जूनियर सिविल इंजीनियरिंग के लिए 10वी पास होना ज़रूरी है 10 वी में 60% मार्क होना अनिवार्य है।

सिविल इंजीनियरिंग सैलरी।

सिविल इंजीनियर के वेतन की बात की जाये तो एवरेज 3,46,000 पर साल वेतन हो सकता है यह सैलरी कंपनी और आपके वर्क एक्सपीरियंस के ऊपर निर्भर करता है इससे कम ज्यादा भी हो सकता है।

इस लेख से आपने क्या सीखा?

मैं उम्मीद करता हूँ की इस आर्टिकल से आपने यह सीखा होगा की सिविल इंजीनियर कैसे बने. सिविल इंजीनियर की सैलरी क्या होती है, civil engineer meaning in hindi, क्या होता है इसके अतिरिक्त कई सवालो के जवाब इस आर्टिकल में कवर किया गया है आशा है ये लेख आपको पसंद आया होगा।

इस आर्टिकल में पेश की गयी जानकारी से कोई जानकारी मिस हो गयी हो या कोई सवाल मन में है डाउट हो तो आप उस सवाल को कमेंट बॉक्स के जरिये पूछ सकते है उसका जवाब आपको अवश्य दिया जायेगा।

ये आर्टिकल आपको कुछ सिखाया हो और आपको यह लगता हो की ये आर्टिकल हेल्पफुल है तो इसे अपने मित्रो तक ज़रूर पहुचाये ताकि उनके भी ये सारे सवाल क्लियर हो जाये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!