B.Fa कोर्स क्या है – Bfa course details in hindi, योग्यता, फीस, सैलरी

आर्ट से 12वी पास स्टूडेंट ग्रेजुएशन डिग्री के लिए बीएफए कोर्स चुन सकते है। लेकिन अधिकतर स्टूडेंट को B.Fa कोर्स क्या है, Bfa course details in hindi, बीएफए कोर्स के लिए योग्यता, फीस, सैलरी, से जुडी जानकारी नहीं होती है। इस लेख में मैं बीएफए कोर्स से जुडी जानकारी शेयर करने वाला हूँ। अधिक जानकारी के लिए लेख को अंतिम तक पढ़े।

स्टूडेंट शिक्षा प्राप्त करके विभिन्न-विभिन्न क्षेत्रो में करियर बनाते है। पहले के मुकाबले स्टूडेंट के पास के आज अनेको करियर अवसर मौजूद है। जिसके लिए स्टूडेंट को अलग-अलग कोर्स को करके शिक्षा और प्रशिक्षण हासिल करनी होती है। उसके पश्चात् प्राइवेट और सरकारी क्षेत्र में नौकरी प्राप्त कर सकते है।

बीएफए कोर्स आर्ट स्टूडेंट करना काफी पसंद करते है। क्योकि बीएफए कोर्स करके अलग अलग क्षेत्रो में करियर बनाया जा सकता है। इस डिग्री कोर्स को कम्पलीट करने के बाद स्टूडेंट के पास कई करियर विकल्प होते है। जो स्टूडेंट अपने दिलचस्पी के अनुसार चुनकर करियर सेट कर सकते है।

आजकल के युवा अच्छे वेतन और प्रोफेशनल नौकरी के तलाश में होते है। जिससे वह अपने जीवन शैली को अच्छे से डिज़ाइन कर पाए। अपने शौख और शौहरत को पूरा कर पाए। ऐसे में बीएफए कोर्स आपको काफी हेल्प कर सकता है। इस डिग्री कोर्स को प्राप्त करने के बाद प्रोफेशनल नौकरी की खोज सकते है।

B.Fa कोर्स क्या है – Bfa course kya hai?

bfa-course-details-in-hindi

बीएफए एक बैचलर डिग्री कोर्स है। जिसमे आर्ट स्टूडेंट अंडर ग्रेजुएशन डिग्री प्राप्त कर सकते है। इस कोर्स में आर्ट से जुड़े विषयो की शिक्षा स्टूडेंट को प्रदान की जाती है। यह 3 – 4 वर्षीय डिग्री कोर्स है। इस डिग्री कोर्स को 6 – 8 सेमेस्टर में बाटा गया है। इस कोर्स की पढाई के लिए स्टूडेंट को पहले बारहवीं पास करना होगा।

B.FA Course में कई विषयो का ज्ञान छात्रों को दिया जाता है। जिसमे- Arts, Entertainment, Media, Writing, Painting, Photography, Animation, Graphic Designing, इत्यादि विषय के अतिरक्त अन्य विषय का भी ज्ञान बीएफए कोर्स में स्टूडेंट दिया जाता है। जिसमे थेओरिटिकल और प्रैक्टिकल जानकारी शामिल होती है।

फोटोग्राफी, डिजाइनिंग, पेंटिंग, एनीमेशन, राइटिंग, फ्लिम मेकिंग, म्यूजिक, नए लेख लिखने, कलाओ को बनाने, डांसिंग, सिंगिंग, में शौख रखने वाले स्टूडेंट इस कोर्स में प्रवेश लेकर शिक्षा हासिल कर सकते है। फिर अपने कला और टैलेंट को लोगो के सामने पेश कर सकते है।

बीएफए कोर्स का उद्देश्य छात्रों के टैलेंट को उभारना और रोजगार के काबिल बनाना और क्षेत्र में ट्रेंड करना है। इस कोर्स को कोई भी आर्ट स्टूडेंट 12वी के बाद प्रवेश लेकर पढाई कर सकता है। और डिग्री प्राप्त करने के पश्चात् किसी ऐसे ही क्षेत्र से जुड़े कम्पनी में नौकरी के लिए अप्लाई कर सकते है। और नौकरी प्राप्त कर सकते है।

दूसरे कोर्स से जुड़े लेख

Bfa course details in hindi

कोर्स का नामBachelor Of Fine Arts (B.FA)
कोर्स की अवधि3 से 4 वर्ष
सेमेस्टर6 से 8 सेमेस्टर
कोर्स का एवरेज फीस30,000 से 3,00,000 रूपये
कोर्स लेवलअंडर ग्रेजुएशन
शैक्षणिक योग्यता12वी पास किसी भी स्टीम से
बीएफए कोर्स मोडरेगुलर / फुल टाइम
एडमिशन प्रकिर्यामेरिट बेस्ड / एंट्रेंस एग्जाम बेस्ड
रोजगार एरियाडिज़ाइन, म्यूजिक, टीचिंग, एनीमेशन, डांसिंग, फ्लिम, इंडस्ट्री,

बीएफए कोर्स के लिए योग्यता

बैचलर ऑफ़ फाइन आर्ट्स डिग्री कोर्स करने के लिए स्टूडेंट को सबसे पहले 12वी 50% अंक से उत्तीर्ण करना होगा। 12वी आर्ट स्टीम से उत्तीर्ण करे तो स्टूडेंट को आर्ट सब्जेक्ट से ग्रेजुएशन करने में काफी हेल्प मिलेगा। इसलिए बारहवीं क्लास में आर्ट सब्जेक्ट चुनकर पढाई करे।

हर एक कोर्स करने के लिए न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता की आवश्यकता होती है। जोकी सभी कोर्स के लिए न्यूनतम योग्यता अलग अलग हो सकता है। लेकिन बीएफए कोर्स करने के लिए छात्र की न्यूनतम योग्यता किसी भी स्टीम 12वी 50% अंक से पास करना अनिवार्य है।

B.Fa course subjects

Theory Subjectथ्योरी विषय
Hindiहिन्दी
Englishअंग्रेज़ी
Punjabiपंजाबी
Muralमुरल
Environmental Studiesएनवायर्नमेंटल स्टडीज
Aestheticsएस्थटिक्स
Human Values & Professional Ethicsह्यूमन वैल्यू & प्रोफेशनल एथिक्स
Health Educationहेल्थ एजुकेशन
Cultural History of Indiaकल्चरल हिस्ट्री ऑफ़ इंडिया
Visual Graphicsविसुअल ग्राफ़िक्स
Basics of Computer Fundamentalsबेसिक कंप्यूटर ऑफ़ फंडामेंटल्स
Design & Communication Practiceडिज़ाइन & कम्युनिकेशन प्रैक्टिस
Market Researchमार्किट रिसर्च
History of Indian Artहिस्ट्री ऑफ़ इंडियन आर्ट
Practical subjectsप्रैक्टिकल सब्जेक्ट
Market Researchमार्किट रिसर्च
Compositionकम्पोजीशन
Clay Modelling & Sculptureक्ले मॉडलिंग & स्कल्पचर
2D Art & Design2D आर्ट & डिज़ाइन
Computer Graphicsकंप्यूटर ग्राफिक्स
Communication Designकम्युनिकेशन डिज़ाइन
Geometry Perspectiveज्योमेट्री पर्सपेक्टिव
Paintingपेंटिंग
Sketching & Drawingस्केचिंग & ड्राविंग
Designडिज़ाइन
Communication Illustrationकम्युनिकेशन ईलुस्ट्रेशन
Advertising Artएडवरटाइजिंग आर्ट
Visual Arts Process & Practicesविसुअल आर्ट्स प्रोसेस & प्रैक्टिसेज
Lettering Layoutलेटिंग लेआउट
Printmakingप्रिंटमेकिंग

B.fa course की फीस

बीएफए कोर्स की फीस सभी कॉलेज और यूनिवर्सिटी में विभिन्न-विभिन्न हो सकता है। क्योकि सभी कॉलेज में किसी भी कोर्स का फीस फिक्स्ड नहीं होता है। लेकिन एवरेज फीस 30 हजार से 3 लाख रूपये तक कम्पलीट कोर्स का हो सकती है। इतने खर्च में स्टूडेंट बीएफए कोर्स की कॉलेज या यूनिवर्सिटी से डिग्री हासिल कर सकते है।

फीस समय में मुताबिक कम ज्यादा भी होता रहता है। इसलिए फिक्स्ड फीस का यहाँ जिक्र करना मुश्किल है। जिस भी कॉलेज में आप प्रवेश ले रहे है। पहले आप उस कॉलेज या यूनिवर्सिटी में फीस की जानकारी लेले तो बेहतर होगा।

B.fa degree के बाद कितना सैलरी मिलता है?

यह स्टूडेंट का महत्वपूर्ण प्रश्नो में से एक होता है। सभी स्टूडेंट को कोर्स पूरा करने के बाद सेम सैलरी पर नौकरी मिल पाना मुश्किल है। लेकिन शुरूआती दौर में एवरेज सैलरी 25,000 – 50,000 रूपये प्रतिमाह के हिसाब से मिल सकता है। इससे अधिक और कम भी हो सकता है। क्योकि किसी भी एम्प्लोयी का वेतन फिक्स्ड नहीं होता है।

बैचलर ऑफ़ फाइन आर्ट्स की डिग्री प्राप्त करने के बाद यह तय करता है की आप किस विषय को चुनकर पढाई पूरी की है किस क्षेत्र में काम कर रहे है। उस हिसाब से स्टूडेंट को सैलरी मिलता है। लेकिन एवरेज सैलरी 3 – 6 लाख रूपये तक प्रतिवर्ष प्राप्त कर सकते है।

सारांश

इस लेख में लिखी गयी जानकारी से हमे यह सिखने को मिला कि B.Fa कोर्स क्या है, Bfa course details in hindi, और कोर्स जुड़े दूसरे प्रश्नो के उत्तर जैसे- योग्यता, फीस, सैलरी, की भी जानकारी मैंने इस लेख में आपके साथ शेयर किया है। आशा करते है। मेरे द्वारा शेयर की गयी जानकारी से आपको हेल्प मिला होगा।

यदि इस लेख से जुड़ा आपका किसी भी प्रकार का कोई भी प्रश्न है। जिसका आप उत्तर जानना चाहते है। उसे आप कमेंट करके पूछ सकते है उसका उत्तर आपको अवश्य कमेंट के जरिये ही दिया जायेगा। ऐसे और जानकारी के लिए दूसरे लेख पढ़ सकते है। जो पहले से इसी ब्लॉग पर पब्लिश किये गए है।

Leave a Comment

error: Content is protected !!