बच्चों का बैंक अकाउंट कैसे खोलें – माइनर अकाउंट कैसे खोलें?

कई माता-पिता अपने बच्चे के लिए बालिग होने से पहले बैंक में खाता खोलने के बारे में सोचते है। ऐसा बहुत सारे लोगो के द्वारा किया भी जाता है। की नाबालिग बच्चे का बैंक में अकाउंट ओपन करवाया जाता है। लेकिन कई पैरेंट को यह जानकारी नहीं होती है। कि बच्चों का बैंक अकाउंट कैसे खोलें या माइनर अकाउंट कैसे खोलें, इसी विषय पर विस्तार से बात करेंगे।

बच्चो के बैंक अकाउंट होने से पैरेंट को आसानी होता है। बच्चो के लिए एक अच्छा फण्ड इकठ्ठा करने में। जो बच्चे के बड़े होने पर एजुकेशन के खर्चे, शादी के खर्चे, और अन्य खर्चो को आसानी से मैनेज किया जा सकता है। अधिक पैरेंट इसीलिए बच्चे के बालिग होने से पहले बैंक अकाउंट ओपन करवाते है।

इसके साथ बच्चो को पैसा मैनेज करने के बारे में सिखाया जाता है। ताकि उसे पैसो के सेविंग के बारे में अच्छी समझ हो। माइनर अकाउंट उन अकाउंट को कह सकते है जो 18 वर्ष से पहले खोले जाते है। यानि नाबालिग बच्चो के जो अकाउंट होते है वह माइनर अकाउंट होते है।

अधिकतर बैंको में माइनर अकाउंट ओपन करने की फैसिलिटी मिल जाती है। लेकिन माइनर अकाउंट ओपन करने के लिए अभिभावक के दस्तावेज के साथ नाबालिग के दस्तावेज भी मागे जाते है। जिसे फॉर्म के साथ संलंग करके बैंक में जमा करके आसानी से माइनर अकाउंट ओपन किया जा सकता है।

बच्चों का बैंक अकाउंट कैसे खोलें?

bachho-ka-bank-account-kaise-khole

बच्चो का अकाउंट ओपन करना काफी आसान है। किसी भी बैंक में वह अपना अकाउंट ओपन करा सकते है। यदि बच्चा 10 वर्ष से कम का है। तो उस नाबालिग बच्चे का अकाउंट उसके अभिभावक के द्वारा संचालन किया जा सकता है। वही नाबालिग 10 वर्ष से अधिक है। नाबालिग स्वम् अपने बैंक अकाउंट का संचालन कर सकते है।

18 वर्ष से कम आयु वाले खाताधारक के माइनर अकाउंट ही खोले जाते है। इसके लिए अभिभावक के दस्तावेज भी लगते है। लेकिन जैसे खाताधारक 18 वर्ष का पूरा हो जाता है। फिर वह खुद अपने दस्तावेज के आधार पर बैंक में सेविंग अकाउंट ओपन कर सकता है। और स्वम् बैंक अकाउंट का संचालन कर सकता है।

नाबालिग के साथ अभिभावक जॉइंट अकाउंट भी ओपन कर सकता है। अगर नाबालिग 10 वर्ष से कम का है। तो कानूनी तौर पर अभिभावक बच्चे के नाम पर बैंक अकाउंट ओपन कर सकता है। और संचालन भी अभिभावक के द्वारा किया जा सकता है। लेकिन नाबालिग 10 वर्ष होने पर स्वम् अपने बैंक अकाउंट को मैनेज किया जा सकता है।

नाबालिग का खाता किसी भी बैंक और पोस्ट ऑफिस में बड़ी आसानी से ओपन किया जा सकता है। उस बैंक अकाउंट को संचालित भी किया जा सकता है। यदि नाबालिग का अकाउंट ओपन करना चाहे तो वह माइनर अकाउंट ओपन कर सकते है।

माइनर अकाउंट कैसे खोलें?

माइनर अकॉउंट खोलने के लिए आप किसी भी बैंक या पोस्ट ऑफिस का सहारा ले सकते है। यहाँ से आपको माइनर अकाउंट फॉर्म या नार्मल सेविंग अकाउंट का फॉर्म भरना होंगा। उसके साथ अभिभावक और नाबालिग के दस्तावेज मागे जायेंगे जो अभिभावक को बैंक में जमा करने होंगे।

नाबालिग के लिए माइनर अकाउंट आप किसी भी बैंक और पोस्ट में आसानी से खुलवा सकते है। अकाउंट खोलते समय मिनिमम बैलेंस जमा करना होगा। उसके बाद नाबालिग का अकाउंट ओपन हो जायेगा। जिसका संचालन अभिभावक और नाबालिग के द्वारा किया जा सकता है।

जैसे नाबालिग 18 वर्ष का हो जाता है। वह अपने दस्तावेज के साथ सेविंग अकाउंट के लिए केवाईसी करवा सकता है। उसके बाद खाताधारक स्वम् अपने खाता का संचालन कर सकता है। न की अभिभावक कर सकते है। फिर माइनर अकाउंट से सेविंग अकाउंट तब्दील हो जायेगा। उसे सेविंग अकाउंट के तौर पर इस्तेमाल किया जा सकेगा।

स्टूडेंट के लिए बैंक खाता कैसे खोले?

कोई भी स्टूडेंट आसानी से अपना अकाउंट बैंक में ओपन करा सकता है। अगर स्टूडेंट नाबालिग है। उसकी उम्र 18 वर्ष से कम है। तब भी वह माइनर अकाउंट बैंक में खोल सकता है। जिसमे अभिभावक के डॉक्यूमेंट मागे जायेंगे केवाईसी के लिए। वही स्टूडेंट 18 वर्ष से अधिक है और वह बालिग है तो वो आसानी से बैंक में सेविंग अकाउंट ओपन कर सकता है।

स्टूडेंट किसी भी बैंक और पोस्ट ऑफिस में अपना अकाउंट ओपन कर सकते है। चाहे वो नाबालिग हो या बालिग हो। बैंक में माइनर अकाउंट और सेविंग अकाउंट आसानी से ओपन किया जा सकता है। इसके लिए स्टूडेंट के पास कुछ दस्तावेज होने चाहिए।

अकाउंट खोलने के लिए डाक्यूमेंट्स

माइनर अकाउंट खोलने के लिए अभिभावक के भी दस्तावेज बैंक के द्वारा मागे जायेंगे। वही बालिग के सेविंग अकाउंट खोलने के लिए खाताधारक के ही दस्तावेज मागे जायेंगे।

माइनर अकाउंट

  • नाबालिग का आधार कार्ड
  • नाबालिग का फोटो
  • नाबालिग का जन्मतिथि का प्रूफ
  • अभिभवक के केवाईसी डाक्यूमेंट्स : (आधार कार्ड, पैन कार्ड, वोटर कार्ड, डीएल,)

बालिग सेविंग अकाउंट

  • आधार कार्ड
  • पैन कार्ड
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • मोबाइल नंबर
  • ईमेल आईडी

घर बैठे बैंक में खाता कैसे खोलें?

कई बैंको के द्वारा ऑनलाइन खाता खोलने का मौका दिया जाता है। उन बैंको में आप आसानी से ऑनलाइन घर बैठे खाता खोल सकते है। इसके लिए आपको बैंक ब्राँच जाने की भी आवश्यकता नहीं होती है। ऑनलाइन अकाउंट खोलने के लिए पहले अप्लाई करना होगा। फिर विडिओ कालिंग के माध्यम से केवाईसी भी करवा सकते है।

अकाउंट ओपन हो जाने पर खाताधारक एटीएम कार्ड, चेक बुक, बैंक पासबुक, ऑनलाइन घर पर मगवा सकते है। ऑनलाइन अकाउंट खोलने की अधिकतर बैंको के द्वारा सुविधा दी जाती है चाहे वो सरकारी बैंक या प्राइवेट बैंक हो। दोनों बैंको में ऑनलाइन अकाउंट ओपन करने की सुविधाएं ग्राहक को दी जाती है।

कितने साल के बच्चों का खाता खुलता है?

बैंक में माइनर अकॉउंट ओपन करने के लिए कोई उम्र लिमिट नहीं है। माइनर अकाउंट किसी भी नाबालिग बच्चे का ओपन किया जा सकता है। अगर बच्चा 10 वर्ष से कम का है तो उसका अकाउंट उसके अभिभावक के द्वारा मैनेज किया जा सकता है। वही नाबालिग 10 वर्ष से अधिक का है। तो वह स्वम् अपने बैंक अकाउंट को मैनेज कर सकता है।

आशा है लेख में शेयर की गयी इनफार्मेशन से आपको हेल्प मिला होगा। इसमें मैंने बच्चों का बैंक अकाउंट कैसे खोलें और माइनर अकाउंट कैसे खोलें, जिक्र किया है। जिससे आपको हेल्प मिला होगा। इस ब्लॉग पर इसके अलावा भी कई सम्बंधित आर्टिकल पहले से पब्लिश किये जा चुके है। उसे भी आप पढ़ सकते है।

यदि इस लेख से जुड़ा आपका किसी भी प्रकार प्रश्न है। जिसका आप उत्तर मालूम करना चाहते है। उसे आप कमेंट करके पूछ सकते है। इस लेख सहायता मिला हो। तो इस लेख को आगे भी शेयर करे।

Leave a Comment

error: Content is protected !!