एंबुलेंस को हिंदी में क्या कहते हैं – Ambulance ka Hindi.

एंबुलेंस को हिंदी में क्या कहते हैं, ambulance-ko-hindi-me-kya-kahte-hai

आम बोलचाल की language में हम लोग बहुत सारे ऐसे english words का इस्तेमाल करते हैं। लेकिन उसका hindi meaning नहीं पता होता है। वहीं पर कई लोगों को लगता है। इसका hindi मतलब ही नहीं होता है। यह पहले से हिंदी ही है। इसलिए यहां पर हम आपको “एंबुलेंस को हिंदी में क्या कहते हैं” डॉक्टर को हिंदी में क्या कहते हैं, और इमरजेंसी को हिंदी में क्या कहते हैं, इस पर आप को जानकारी देंगे।

अक्सर लोग बोल-चाल की भाषा में कई अलग-अलग अंग्रेजी sentence का इस्तेमाल करते हैं। अंग्रेजी words का इस्तेमाल करते हैं चाहे उन अंग्रेजी शब्दों और वाक्यों का hindi मायने पता हो या ना पता हो। लेकिन बोलचाल में अक्सर लोगों के द्वारा ऐसे शब्द का इस्तेमाल किया जाता है।

अगर आप भी यही सोचते है। कि एंबुलेंस का कोई और नाम नहीं है। तो हम गलत हो सकते हैं। यहां पर हम आपको बताएंगे। Ambulance के दूसरे नाम भी होते हैं। Doctor के दूसरे भी नाम होते हैं। इसके अलावा “एंबुलेंस का नाम उल्टा क्यों लिखा होता है” वो भी हम आपको बताएंगे।

एंबुलेंस को हिंदी में क्या कहते हैं – Ambulance meaning in hindi.

Ambulance को हिंदी में आपात वाहन या रोगी वाहन या अस्पताल वाहन कहते हैं। एंबुलेंस शब्द से आप सभी वाकिफ होंगे। एंबुलेंस को हर अस्पताल में रखा जाता है। ताकि मरीजों को एक स्थान से दूसरे स्थान तक लाया ले जाया जा सके।

यह आपात वाहन हर एक Hospital में होता है। चाहे वह बड़ा हॉस्पिटल हो या छोटा हॉस्पिटल हो। वहां पर आपको एंबुलेंस देखने को मिल जाता है। और एंबुलेंस ही एक ऐसा वाहन है। जिसमें रोगी को किसी भी इमरजेंसी में किसी बड़े हॉस्पिटल में लाया ले जाया जा सकता है।

Ambulance एक ऐसा वाहन है। जिसे रोड पर काफी काफी सम्मानपूर्वक साइड दिया जाता है। और हर एक वाहन के द्वारा एंबुलेंस को तुरंत रास्ता दिया जाता है। ताकि उसमें सीरियस पेशेंट या मरीज को अस्पताल तक आसानी से और कम समय में पहुंचाया जा सके।

यह वाहन हर एक Government और Private Hospital में देखने को मिल जाते है। इन वाहनों से मरीजों को रिफर करने पर मरीजों को बड़े हॉस्पिटल में ले जाने में काम लगता है। और इन्हीं वाहनों के द्वारा मरीजों को एक स्थान से दूसरे स्थान पर लाया ले जाया जा सकता है।

Ambulance के अन्य मीनिंग 

  • अस्पताल वाहन 
  • रोगी वाहन 
  • आपात वाहन 
  • रोगिगाडी
  • रुग्ण यान

डॉक्टर को हिंदी में क्या कहते हैं?

Doctor को हिंदी में चिकित्सक, हकीम, रोगी का इलाज करने वाला व्यक्ति, बैद्य, कहते है। हर एक मर्ज के लिए डॉक्टर की जरूरत होती है। डॉक्टर को अलग-अलग नामों से जाना जाता है। जैसे- हकीम, बैद्य, चिकित्सक, रोगी का इलाज करने वाला इंसान, इसके अलावा कई अलग-अलग नामों से जाना जाता है।

किसी भी रोग का इलाज करवाने के लिए डॉक्टर की सहायता लेनी होती है। चाहे वह हॉस्पिटल में, क्लीनिक में हो, उससे इलाज करवाकर किसी भी रोग का खात्मा किया जा सकता है।

Doctor को भगवान का दर्जा दिया जाता है। डॉक्टर हर व्यक्ति के रोग खत्म करने का प्रयास करते हैं। क्रिटिकल से क्रिटिकल केस ठीक करने का प्रयास करता हैं।

एंबुलेंस का नाम उल्टा क्यों होता है?

अगर आपने गौर किया हो। तो Ambulance पर हमेशा उल्टा नाम लिखा जाता है। एंबुलेंस का नाम A लेटर से शुरू न करके E लेटर से शुरू होता है। और A लेटर पर खत्म होता है। लेकिन ऐसा क्यों होता है। इस पर आइए हम आपको जानकारी देते हैं।

दरअसल एंबुलेंस एक आपात वाहन है। और हमेशा एंबुलेंस में रोगी को ले जाकर एक जगह से दूसरी जगह पर पहुंचाया जाता है। जब यह आपात बाहर रोड पर चलता है। इससे आगे चलने वाली गाड़ी के ड्राइवर को मिरर में एंबुलेंस शब्द का सीधा और स्पष्ट एंबुलेंस दिखाई देता है।

यही कारण है। कि एंबुलेंस का नाम Ambulance पर उल्टा लिखा जाता है। ताकि आगे वाली गाड़ी के ड्राइवर के मिरर में एंबुलेंस साफ-साफ दिखे। और इसे देखकर वह साइड हो जाए। और एंबुलेंस को आगे निकाल दे. इसलिए एंबुलेंस को उल्टा लिखा जाता है।

इमरजेंसी का हिंदी क्या है?

Emergency को हिंदी में “आपातकाल” कहते है। यह ऐसा समय होता है जब लोग कठिनाइयों और परेशानियों से गुजर रहे होते है।

ऑपरेशन का हिंदी क्या है?

Operation को हिंदी में शल्यकिर्या या चीड़-पाड़ कहते है। ऑपरेशन से चिकित्सक रोगियों के रोग को बाहर करते है।

OPD का हिंदी मीनिंग क्या होता है?

OPD का पूरा नाम Outpatient Department है इसमें आम रोगो के रोगियों को डॉक्टर देखते है और इलाज निकालते है।

अंतिम शब्द

हम आपके साथ इसी विषय पर डिटेल्स में जानकारी देना चाह रहे थे। जो मैंने आपके साथ साझा किया है। आशा कहते है आपको यहां से जानकारी मिला होगा। मेरे द्वारा शेयर की गई जानकारी से आपको हेल्प मिला होगा। ऐसी जानकारी के लिए हमारे ब्लॉग पर और मेडिकल दूसरे आर्टिकल Publish है उसे देखे और अधिक जानकारी प्राप्त करें।

और पढ़े.

Leave a Comment

error: Content is protected !!